Home Education छात्र आंदोलन के आगे झुका कॉलेज प्रशासन

छात्र आंदोलन के आगे झुका कॉलेज प्रशासन

181
0

मालदा ,01 अगस्त। छात्र आंदोलन के आगे कॉलेज प्रशासन को झुकना पड़ा। गौरबंग विस्वविद्यालय अंतर्गत 25 कॉलेजों में 31 जुलाई से स्नातक प्रथम व द्वित्तीय वर्ष की परीक्षा शुरू हुई है। छात्रों का आऱोप है कि परीक्षा के प्रथम दिन ही फ़ूड एवं नूट्रिशन  विषय में 50 प्रतिसत प्रश्न पाठ्क्रम के  बाहर  से किया गया था । प्रश्नपत्र देखकर छात्रों के पसीने छूटने लगें। उन्हें यह  समझ नहीं आ रहा था की वे इन प्रश्नों के उत्तर कहा से दें।छात्रों ने प्रश्नपत्र में हुए इस गड़बड़ी के ख़िलाफ़ आंदोलन करना शुरू कर दिया। छात्रों ने गौरबंग विश्विधालय के  परीक्षा नियंत्रक के दफ्तर के बहार प्रदर्शन करना शुरू किया।छात्रों की समस्या को  देखते हुए  विस्वविद्यालय प्रशासन की तरफ़ से एक तत्त्काल बैठक बुलाई गई। उन्होंने 31 जुलाई को हुई फ़ूड एवं नूट्रिशन  की परीक्षा को  रद्द करने का निर्णय लिया। विस्वविद्यालय परीक्षा नियंत्रक श्यामापद मंडल ने बताया कि फ़ूड एवं नूट्रिशन दो कॉलेजों में पढ़ाई जाती है। दोनों कॉलेजों को मिलाकर इस विषय को लेकर पढाई करने वाले छात्रों की कुल संख्या 38 है। एक विषय की परीक्षा 31 जुलाई को हुई है बाक़ी दो परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। जिन्होंने प्रथम परीक्षा दिया है. विस्वविद्यालय उनके विषय में भी विचार विमर्श कर रही है। छात्रों की समस्याओं को देखते हुए जल्द से जल्द पुनः परीक्षा करवाने का विचार किया जा रहा है। विस्वविद्यालय के इस निर्णय से छात्रों ने राहत की सांस ली।

 

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here