Home India आगजनी में छह लोगों की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

आगजनी में छह लोगों की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

192
0
file photo
मालदा , 11 फ़रवरी।  मानिकचक आगजनी कांड में कथित तौर पर छह लोगों की हत्या के मुख्य आरोपी माखन मंडल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस लम्बे समय से उसकी तलाश कर रही थी। सोमवार को दोपहर मोथाबाड़ी थाने के की पुलिस व मानिकचक थाने की पुलिस ख़ुफ़िया जानकारी के आधार पर रामनाखटोला इलाके में  छापेमारी कर  माखन मंडल को उसके एक रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार किया। बताया जाता है पुलिस को देख कर आरोपी घर की छत से निचे कूदकर भागने की कोशिश की।  इस दौरान  नीचे दीवार में लगे लोहे के एक रोड में उसका गला फंस गया जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गया।  पुलिस ने उसे तत्काल  मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया।  पुलिस ने बताया मानिकचक  थाने के मदनटोला गांव निवासी गेदूधर मंडल के एनवीएफ में नौकरी पाने को लेकर उसकी चार संतानों में विवाद शुरू हुआ। इस विवाद में मझले भाई के हाथों  तीन भाइयों के परिवार के छह सदस्यों को जान गंवानी पड़ी, जबकि अभी भी तीन सदस्य मालदा मेडिकल कॉलेज व  अस्पताल में चिकित्साधीन है।  मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के दीप्ती सुपर डॉ ज्योतिष चंद्र दास ने बताया कि आगजनी में गंभीर रूप से झुलसे छोटू मंडल (7 ), बबिता मंडल (23 ) एवं विशाल मंडल (13 ) की चिंताजनक है।  पुलिस सूत्रों के अनुसार पांच  फ़रवरी को मेडिकल कॉलेज में राखी मंडल (24 )
 एंव गोपी मंडल (28 ) की मौत हो गयी थी।  इससे पहले इस आगजनी में तीन फ़रवरी की रात माणिकचक  थाने के मदनटोला गांव में घर में आग से  झुलस कर दो ढाई वर्षीय प्रिया  मंडल  एवं छह वर्षीय देवश्री मंडल  की मौत गयी थी। चार  फ़रवरी को मेडिकल कॉलेज में इन दो मासूमों के पिता विकास मंडल (35 ) एवं उसके भाई  गोविन्द मंडल (29 ) की मौत हो गयी।
पुलिस ने बताया मृत गेदूधर मंडल एनवीएफ में कार्यरत थे।  नौकरी के दौरान ही उनका निधन हो गया।  गेदूधर के चार बेटे हैं।  विकाश मंडल , गोपी मंडल, माखन मंडल  एवं गोविन्द मंडल  । छोटे बेटे गोविंद मंडल को पिता की नौकरी मिली।  इसी बात को लेकर परिवार में विवाद शुरू हो गया। सजला भाई माखन मंडल ने पिता की नौकरी उसे देने की मांग कर दी।  पेशे से सिविक वॉलेंटेर का काम करने वाले माखन मंडल को इस मांग में घर के अन्य सदस्यों ने साथ नहीं दिया। इसी का बदला लेने के लिए उसने तीन भाइयों के परिवारवालों को पेट्रोल छिड़ककर आग लगी दी।  पुलिस के अनुसार पिछले बुधवार को हुई इस घटना की जाँच के लिए फोरेंसिक टीम घटनास्थल का दौरा कर सकती है।  घटना के बाद से माखन मंडल फरार था।  सोमवार को पुलिस को उसके बारे में भनक लगते ही अभियान चलाकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here