Home India नाईट बारो में मनोरंजन की आड़ में मिलती है व्यग्रता

नाईट बारो में मनोरंजन की आड़ में मिलती है व्यग्रता

229
0

आज शहरों में मनोरंजन के अनेक साधन खुल गए हैं. नाइट बार, डिस्कोथेक, डांस बार,पब आदि जहां इंसान मानसिक सुख की तलाश में जाता है और ढेर सारा तनाव बदले में घर ले आता है. कहने के लिए तो ये मनोरंजन के केंद्र हैं, पर क्या डांस बार या नाईट बार में बैठकर वाइन शिप  करने तथा बार बालाओ के लटके झटके देखने से आपको मानसिक सुख मिल जाता है ? क्या बार डांसर पर रुपए लुटाने से आपके मन की खुशी छलकती है? बिल्कुल नहीं. यह सिर्फ और सिर्फ मन व आत्मा को भ्रमित करने का षडयंत्र है. हमें ऐसे साधनों से बचने की जरूरत है, जो हमारी खुशियों को कुचल दें. हमें क्षणिक खुशियां नहीं चाहिए. हमें तो लम्बी खुशियां चाहिए. हम परिवार के साथ खुश रह सकते हैं. हम जितनी देर तक पब अथवा बारो में वक्त बिताते हैं ,अगर उतना ही वक्त अपने परिवार, बच्चों को दे सकें तो हमारा घर खुशी से आबाद रहेगा. लेकिन हम ऐसा नहीं कर पाते. सुबह से लेकर शाम तक काम ही काम और आराम नहीं. आनंद की उत्पत्ति के लिए मन के द्वार को खोलना होगा. हमें अपने विचार को उन्नत बनाना होगा. हमारी सोच ऐसी होनी चाहिए कि परिवार में परिवार के लोगों के साथ आनंद के क्षण बितायें . इससे परिवार में एकजुटता बनी रहती है. नाइट बार, डिस्कोथेक, डांस बार,पब  में मन को आनंद नहीं बल्कि मन की व्यग्रता बढ़ जाती है. इसी व्यथा  को लेकर आप घर लौटते हैं और कई दिनों तक इसी मानसिकता में घुलते रहते हैं. अपनी जिम्मेदारियों को भूल कर अगर आप यह समझते हैं कि पब आदि में आनंद  के सागर में डुबकी लगा लेंगे तो यह आपकी भूल है. जिसे आप मनोरंजन के साधन समझते हैं, वहां मनोरंजन होता कहां है .आप छुट्टियों में परिवार के बीच में एक दूसरे के साथ खुशियां बांटे. घर- परिवार एक ऐसी जगह है, जहां आप आनंद प्राप्त कर सकते हैं और आराम भी कर सकते हैं. अपना सुख-दुख परिवार के सदस्यों के बीच शेयर कर सकते हैं. याद रखें, परिवार मजबूत होगा, परिवार में अमन- चैन व खुशी होगी तभी आप खुश व  सुखी रह सकेंगे. अगर लोग यह ठान ले कि हम अपने परिवार को सुखी रखेंगे तो स्वस्थ खुशहाल परिवार से ही उन्नत व स्वस्थ समाज का निर्माण होता है. जब हमारा समाज स्वस्थ  होगा तो देश भी उन्नत व स्वस्थ होगा. भागदौड़ की जिंदगी में यूं तो कुछ लोग आराम  व  मनोरंजन के लिए किसी ना किसी प्रकार के नशे का सेवन करते हैं. यह  नशा शराब का हो सकता है,  सिगरेट का अथवा अन्य कई प्रकार के नशो का,  हालाकि शराब पीना सेहत के लिए हानिकारक है फिर भी अगर आप चाहते है कि छुट्टियों का लुत्फ़ उठाया जा सके तो इसके लिए अपने दोस्तों के बीच बैठकर मस्ती करें .

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here