Home Lifestyle छापा मारते ही खड़े हो गए रौंगटे, चिकन के नाम पर बिक...

छापा मारते ही खड़े हो गए रौंगटे, चिकन के नाम पर बिक रहे थे ये

1132
0

यदि कोई आपको कहे कि चिकन और मटन के नाम पर आपको मरे हुए कुत्ते और बिल्लियां परोसी जा रही हैं तो आपके पसीने छूट जाएंगे. दरअसल, कोलकाता में एक छापेमारी के बाद यहां मांस की बिक्री घट गई है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक, कोलकाता के राजाबाजार में एक बर्फ फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान करीब 20 टन मांस मिला. जांच में यह सामने आया कि मरे हुए जानवरों का मांस प्रोसेस करके होटल और रेस्टोरेंट में बेचा जाता था. इसमें कुत्ते व बिल्ली का मीट होने की बातें कही जा रही हैं.

आलम यह है कि होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ ईस्टर्न इंडिया (एचआरएईआई) ने अपने सदस्यों को खासतौर पर एडवाइजरी जारी करके रजिस्टर्ड सप्लायर्स से ही मीट खरीदने को कहा है. इस वाकये के बाद कोलकाता में बकरा, मुर्गा व अन्य जानवरों के मीट से होने वाली कमाई आधी से भी कम हो गई है, साथ ही बड़े से लेकर छोटे रेंस्टोरेंट्स को भी इस मार का सामना करना पड़ रहा है.

वहीं, एचआरएईआई के अध्यक्ष सुदेश पोद्दार ने कहा कि उन छोटे सप्लायर्स को जांच के घेरे में लाया जा रहा है, जो छोटी जगहों से मीट खरीदते हैं. साथ ही फ्रीज में रखे हुए मीट की भी जांच की जा रही है.

दक्षिणी कोलकाता के एक होटल संचालक ने बताया कि इस मामले के बाद बिक्री में 60 फीसदी की गिरावट आई है. वे रोज का 25 से 30 किलो मीट खरीदते हैं, लेकिन इस घटना ही वजह से सिर्फ 8 किलो मीट ही इस्तेमाल हो पा रहा है.

Source; Aaj Tak