Home Lifestyle आखिर क्या है फैट की वजह ? जानिए डॉ. पीडी भूटिया से

आखिर क्या है फैट की वजह ? जानिए डॉ. पीडी भूटिया से

793
0

आप अगर अल्कोहल का सेवन नहीं करते हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि आपका लीवर सेफ है. अल्कोहल के सेवन के बगैर भी आप मोटापे व फैटी लीवर की समस्या से ग्रसित हो सकते हैं. वर्तमान जीवनशैली व खानपान शरीर में फैट की मुख्य वजह है.

फैट की समस्या दो तरह की हो सकती है जैसे NASH यानी नॉन अल्कोहलिक स्टीटो हेपेटाइटिस या NAFLD यानी नॉन अल्कोहलिक फैटी लीवर डिजीज. दोनों तरह की बिमारियों के बारे में जानने व इलाज के उपाय व बचाव के लिए आज पहलीबार अंतर्राष्ट्रीय नैश दिवस मनाया गया. नैश एजुकेशन प्रोग्राम की ओर से देशभर में यह दिवस पालन किया गया.

सिलीगुड़ी के प्रख्यात बंगरत्न प्राप्त डॉक्टर पीडी भूटिया ने लीवर फैट से जुड़ी विभिन्न तथ्यों को हमारे साथ साझा किया. पीडी भूटिया के अनुसार, सिर्फ अल्कोहल के सेवन से ही लीवर में फैट नहीं बनती है, जो लोग अल्कोहलिक नहीं हैं, लेकिन खानपान में ज़रूरत से ज्यादा कार्बोहाइड्रेट, फ़ास्ट फ़ूड, कोल्ड ड्रिंक्स, मसालेदार पकवान ग्रहण करते हैं, जिससे लीवर में फैट जमा होने लगता है. फलाहार कम करना भी फैट बढ़ने का एक कारण है. एनएएफएलडी के क्षेत्र में फैट लीवर में जमा होने का खतरा बना रहता है. दूसरी ओर, नैश के मामले में फैट लीवर में जमा होने के अलावा सुजन भी होता है. जिससे सिरोसिस का खतरा बढ़ जाता है. उन्होंने कहा डायबिटीज भी मोटापे का कारण है. इसलिए समय समय पर डायबीटीज व सुगर की जांच कराने की सलाह दी.

लीवर फैट से बचाव के बारे में उन्होंने कहा फैटी लीवर के मामले में अल्कोहल को छोड़ना सबसे बेहतर होगा. जो अल्कोहल के भीषण आदि हैं, उन्हें पीने की मात्रा में ध्यान देना होगा. रेड मीट, घी, माखन, आचार, फ़ास्ट फ़ूड, कोल्ड ड्रिंक्स, जंक फूड्स, कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन से परहेज करना होगा. नियमित कसरत, डाइट पर ध्यान देना होगा. सी फिश खाना खूब लाभकारी है. इसके अलावा सी फिश से बनने वाली ओमेगा थ्री कैप्सूल या फिर विटामिन ई कैप्सूल चिकित्सक के सुझाव अनुसार आप ले सकते हैं.

डॉक्टर पीडी भूटिया ने आज नैश जागरूकता दिवस पर लोगों को सेहत के प्रति जागरूक होने, खानपान में सावधानी बरतने, नशीली पदार्थ के सेवन से परहेज करने, नियमित चिकित्सक से जांच कराने और स्वस्थ रहने की सलाह दी.