Home Politics संविधान से बड़ी नहीं हो सकती हैं सरकार : हर्क बहादुर छेत्री

संविधान से बड़ी नहीं हो सकती हैं सरकार : हर्क बहादुर छेत्री

1324
0

सिलीगुड़ी : अलग राज्य गोरखालैंड मुद्दे पर जो भी वातचीत करनी है केंद्र सरकार के साथ करेंगे. यह कहना है जाप प्रमुख हर्क बहादुर छेत्री का. उन्होंने साफ़ कह दिया है की अलग राज्य गोरखालैंड मुद्दे पर केंद्र सरकार जो भी तर्क पेश करेंगे, उसके आधार पर अगले कदम के बारे में सोच-विचार किया जाएगा.

उन्होंने कहा की संबिधान के अनुसार भाषा-संकृति-इतिहास के आधार पर अलग राज्य गोरखालैंड का गठन जायज है, जबकि सरकार यह मानने से इंकार कर रही है. उन्होंने सवाल किया की तब किया केंद्र सरकार संबिधान से बड़ी हैं. सरकार को संबिधान के तहत चलना चाहिये. लेकिन बर्तमान परस्थिति देख कर लग रहा है की सरकार संबिधान से बड़ी हो गई हैं. संबिधान गोरखालैंड देगा, लेकिन सरकार नहीं देगी. श्री छेत्री ने गोरखालैंड मुद्दे पर कम से कम बातचीत शुरू करने की मांग की हैं. उन्होंने केंद्र व राज्य दोनों सरकार को अपना अहंकार दूर कर बैठक करने के लिए आवेदन किया है. उन्होंने आशा जताई है की त्रिपक्षीय बैठक से कोई न कोई हल तो ज़रूर निकलेगा.

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here