Home Sports अनु कुमार को स्वर्ण पदक

अनु कुमार को स्वर्ण पदक

218
0

खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के एथलेटिक कार्यक्रम के पहले दिन उत्तराखंड के अनु कुमार ने पहला स्वर्ण पदक जीत लिया, जबकि 6 स्वर्ण पदकों में से 2 तमिलनाडु ने जीते।

      आज सुबह जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में आयोजित दौड़ में तमिलनाडु के एथलीटों ने 2 स्वर्ण पदक जीते, शेष उत्तराखंड, केरल,उत्तर प्रदेश और हरियाणा की झोली में गए।

      अनु कुमार ने स्पोर्ट्स कॉलेज रायपुर में प्रशिक्षण हासिल किया है और वह फ्रांस में आयोजित वर्ल्ड स्कूल गेम्स में 800 मीटर की दौड़ में भारत के लिए रजत पदक जीत चुका है। उसने 1500 मीटर का फाइनल आराम से 4:04.77 सेकंड में पूरा किया। मध्यम दूरी के प्रतिष्ठित स्टार, उत्तराखंड के अनु ने फ्रांस में 800 मीटर की दौड़ 1:53.53 सेकंड में पूरी कर रजत पदक प्राप्त किया था।

      अनु ने 800-1500 मीटर में डबल का लक्ष्य रखा। अनु ने तमिलनाडु के बी. मथेश और उत्तर प्रदेश के संदीप कुमार को पीछे छोड़ते हुए अपना दबदबा बनाए रखा। तमिलनाडु ने रजत और उत्तर प्रदेश ने कांस्य पदक हासिल किया।

      लड़कियों की 1500 मीटर दौड़ में गुजरात की कथीरिया श्रद्धा ने सबसे पहले यह दूरी तय की लेकिन एक अन्य टीम द्वारा विरोध करने के बाद उन्हें आयोग्य घोषित कर दिया गया, क्योंकि जजों ने पाया कि अंतिम चरण में वह गलत तरीके से अपनी सहयोगी से आगे बढ़ गई थी। जजों ने केरल की सी. चनथीनी को स्वर्ण पदक देने की घोषणा की जिसने 4:50.81 सेकड़ में यह दूरी तय की।

      लड़कों की गोला फेंक प्रतियोगिता में और ट्रिपल जम्प में अच्छा प्रदर्शन देखने को मिला। उत्तर प्रदेश के अभिषेक सिंह ने 18.73मीटर दूरी तक गोला फेंक करके यह प्रतियोगिता जीती, जबकि तमिलनाडु के सी. प्रवीण ने छठे प्रयास में 15.22 मीटर कूद कर ट्रिपल जम्प प्रतियोगिता जीती।

      अभिषेक सिंह ने चार बार 18 मीटर से ज्यादा दूरी तक सफलतापूर्वक गोला फेंका और उनकी सर्वश्रेष्ठ दूरी 18.73 मीटर रही जिसने उन्हें स्वर्ण पदक दिलाया। अंतिम प्रयास में उन्होंने दो बार 18.54 मीटर और 18.38 मीटर की दूरी तक गोला फेंका। मध्य प्रदेश के कार्तिकेय देसवाल ने 18.29 मीटर की दूरी तक गोला फेंक कर रजत पदक जीता।

      लड़कों के ट्रिपल जम्प में छठी बार कूदने पर सी. प्रवीण ने 15.22 मीटर ऊंची कूद के साथ यह प्रतियोगिता जीती, जबकि उत्तर प्रदेश के सचिन गुज्जर 14.46 मीटर के साथ दूसरे स्थान पर और केरल के आकाश एम. वर्गीज 14.27 मीटर के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

      गोला फेंक प्रतियोगिता में हरियाणा की लड़कियों ने बाजी मारी और तीन में से दो पदक हरियाणा की झोली में गए। पूजा ने 13.88मीटर की दूरी तक गोला फेंक कर स्वर्ण पदक और रेखा ने 13.20 मीटर की दूरी तक गोला फेंक कर कांस्य पदक जीता। तमिलनाडु की अजेंसी सूसन 13.39 मीटर की दूरी तक गोला फेंकने के साथ रजत पदक विजेता रही। पूजा ने इस प्रतियोगिता में अपना दबदबा बनाए रखा। उनके तीन थ्रो रजत पदक विजेता से बेहतर थे।

      लड़कियों के ट्रिपल जम्प में जे. कोलेशिया 12.29 मीटर की कूद के साथ विजेता रही, जबकि केरल की सांद्रा बाबू 12.27 मीटर कूद के साथ दूसरे स्थान पर और तमिलनाडु की पी.एम. तबीथा 11.95 मीटर के साथ तीसरे स्थान पर रही।

      एथलेटिक की दूसरे दिन प्रतियोगिताओं में 9 और पदकों का फैसला होगा, जिनमें से तीन लड़कों के वर्ग में और चार लड़कियों के वर्ग में होंगी। लड़कों का फाइनल लम्बी कूद (सुबह 10 बजे), भाला फेंक (सुबह 10 बजे) और 200 मीटर (दोपहर 12.30 बजे), जबकि लड़कियों के फाइनल में पोल वॉल्ट (सुबह 10 बजे), लम्बी कूद (11.40 बजे), भाला फेंक (11.45 बजे) और 200 मीटर (दोपहर 12.40 बजे) में होगा।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here