February 5, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

एनजेपी से गुवाहाटी तक चलेगी एक और नई व॔दे भारत ट्रेन!

न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन से कोलकाता के बीच अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस वंदे भारत एक्सप्रेस दौड़ रही है. अभी इसका रोमांच उतरा भी नहीं कि एनजेपी से गुवाहाटी तक एक और नई वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना बन चुकी है. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के अलीपुरद्वार मंडल के डीआरएम दिलीप कुमार सिंह ने इस खबर की पुष्टि भी कर दी है. उन्होंने कहा है कि जल्द ही वंदे भारत एक्सप्रेस की एक और नई खेप मिलने जा रही है, जो एनजेपी से गुवाहाटी के बीच दौड़ेगी.

दूसरी नई वंदे भारत की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है. नई वंदे भारत को खासकर पर्यटन के लिहाज से चलाया जा रहा है. क्योंकि बाहर से सिलीगुड़ी आने वाले पर्यटक मां कामाख्या का भी दर्शन करना चाहते हैं. इसके अलावा ट्रेन से Dooars की हरी-भरी वादियों का दीदार करना अच्छा लगता है. नई वंदे भारत ट्रेन पर्यटकों की इच्छाओं और आकांक्षाओं को पूरा करने में सफल रहेगी. इसके अलावा एनजेपी और गुवाहाटी के बीच आत्मीय संबंधों समेत व्यापारिक क्षेत्र को भी समृद्ध कर सकती है.

वंदे भारत एक्सप्रेस के अगर किराए की बात करें तो इसका चेयरकार का न्यूनतम किराया 1275 रुपए प्रति यात्री है. एग्जीक्यूटिव चेयर कार का किराया 2455 रू निर्धारित किया गया है.

इस ट्रेन की कई खासियत है. सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह ट्रेन 1 मिनट में ही 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है.इसके अलावा ऑटोमेटिक डोर क्लोजर के साथ ही स्टेशन पडाव की सूचना, प्रत्येक बोगी का एक दूसरे से अटैच होना, उत्तम दर्जा की सीट, उत्तम खाना, नाश्ता आदि विभिन्न सुविधाएं यात्रियों को मिल रही है. वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का वजन 392 टन है. यही कारण है कि यह ट्रेन बहुत जल्दी स्पीड पकड़ लेती है. ट्रेन में वाईफाई की सुविधा भी है. इसके अलावा ट्रेन में 32 इंच के एलसीडी टीवी भी लगाए गए हैं.

वंदे भारत ट्रेन भारत के कई राज्यों में चल रही है. पहली वंदे भारत एक्सप्रेस फरवरी 2019 में शुरू की गई थी. यह बनारस से नई दिल्ली के लिए चलाई गई थी. उसके बाद दूसरी वंदे भारत ट्रेन अक्टूबर 2019 में चलाई गई थी. यह ट्रेन दिल्ली से माता वैष्णो देवी कटरा के लिए चलाई गई थी. प्रारंभ में ट्रेन की रफ्तार कम थी. लेकिन प्रयोग और परीक्षण के पश्चात इसकी रफ्तार में बढ़ोतरी होती चली गई.एनजेपी से कोलकाता को चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस सातवीं ट्रेन है और अब एनजेपी से गुवाहाटी के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस आठवीं ट्रेन होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *