July 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

कोर्ट मोड़ से लेकर कंचनजंघा स्टेडियम तक नहीं नजर आएगा कोई होर्डिंग!

सिलीगुड़ी नगर निगम सिलीगुड़ी शहर को स्वच्छ, सुंदर और आकर्षक स्वरूप देने के लिए एक पर एक फैसले ले रही है. सिलीगुड़ी शहर के प्रमुख मार्गो को अतिक्रमण मुक्त करने के अभियान के बाद अब सिलीगुड़ी नगर निगम का ध्यान शहर के प्रमुख मार्गों पर विभिन्न व्यवसायिक संस्थाओं अथवा कंपनियों के द्वारा उत्पाद से संबंधित लगाए जाने वाले होर्डिंग और विज्ञापन की ओर गया है.

किसी स्थान पर जगह-जगह होर्डिंग और विज्ञापन के पोस्टर, दीवाल लेखन, दीवाल पर पोस्टर चिपकाना इत्यादि उस स्थान को बदसूरत बना देता है. इसके साथ ही यह कभी-कभी दुर्घटना का भी कारण बन जाता है.क्योंकि ऐसे विज्ञापनों और होर्डिंग पर राह चलते लोगों की नजर जाती है. ऐसे में दुर्घटना का खतरा बना रहता है. सिलीगुड़ी का कोर्ट मोड, हाशमी चौक, कंचनजंघा स्टेडियम, विधान मार्केट ,विधान रोड से लेकर पानी टंकी मोड तक ऐसे इलाके हैं जहां हर समय भीड़ भाड़ सड़कों पर दिखती है. व्यवसायिक संस्थान अथवा कंपनियां ऐसे अवसरों का लाभ उठाने के लिए रास्तो पर बैनर अथवा होर्डिंग लगा देती है.यह एक तरफ जहां शहर की सुंदरता पर दाग की तरह दिखता है तो दूसरी ओर यह दुर्घटना का भी कारण बन जाता है. ऐसे विज्ञापनों से दुर्घटनाओं का भी खतरा बढ़ जाता है.

अब सिलीगुड़ी नगर निगम ने फैसला किया है कि कोर्ट मोड से लेकर हॉस्पिटल मोड और उसके आगे कंचनजंघा स्टेडियम तक कोई भी कंपनी अथवा व्यवसायिक संस्थान किसी प्रकार का होर्डिंग नहीं लगाएगा. जिन कंपनियों या व्यवसायिक संगठनों के द्वारा होर्डिंग लगाए गए हैं, उन्हें आदेश दिया गया है कि वे 31 मार्च तक होर्डिंग उतार ले अथवा नष्ट कर दें. अन्यथा 1 अप्रैल से सिलीगुड़ी नगर निगम होर्डिंग के खिलाफ मैदान में उतरेगा और होर्डिंग लगाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगा.

आपको बताते चलें कि विगत 27 फरवरी को बोर्ड ऑफ काउंसिल की एक मीटिंग हुई थी जिसमें सिलीगुड़ी शहर को स्वच्छ, सुंदर और आकर्षक बनाने के लिए शहर के प्रमुख मार्गों से होर्डिंग हटाने का फैसला किया गया था. इनमें कोर्ट मोड, हॉस्पिटल मोड, हाशमी चौक, एयर व्यू मोड इत्यादि शामिल है. सिलीगुड़ी नगर निगम ने चिन्हित क्षेत्रों में होर्डिंग नहीं लगाने का आदेश दिया था. इसके बावजूद लोगों ने नगर निगम से सलाह लिए बगैर चुपचाप होर्डिंग लगा दिया और उसे उतारना भूल गए. कम से कम सिलीगुड़ी नगर निगम के डिप्टी मेयर रंजन सरकार के बयानों से यही संकेत मिलता है. रंजन सरकार ने कहा है कि सिलीगुड़ी के निवासी सिलीगुड़ी शहर को स्वच्छ, सुंदर और आकर्षक बनाने में निगम के साथ सहयोग करें.

बहरहाल अब यह देखना होगा कि सिलीगुड़ी नगर निगम ने इसी महीने तक होर्डिंग हटाने की जो समय सीमा संस्थानों को दी है, क्या वे उक्त समय में अपना होर्डिंग हटा पाते हैं? या फिर 1 अप्रैल से सिलीगुड़ी नगर निगम ऐसे होर्डिंग लगाने वाले व्यवसायिक संस्थानों के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *