February 3, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

नए साल पर जश्न की तैयारी जेब पर पड़ेगी भारी!

नया साल आने में अब कुछ ही समय रह गया है. नए साल की सभी बेसब्री से प्रतीक्षा करते हैं. आमतौर पर नए साल को शुभ शुरुआत से जोड़कर देखा जाता है. इसलिए लोग नए साल का उत्सव मनाते हैं और कामना करते हैं कि नया साल उनके जीवन में सब तरह की खुशियां लाए. राज्य और केंद्र सरकार भी अपने लोगों को नए साल का कुछ ना कुछ गिफ्ट दे देती है. पर क्या इस बार लोगों को सुकून मिलने जा रहा है? अभी से इस पर कुछ कहना उपयुक्त नहीं होगा. क्योंकि ना तो राज्य सरकार और ना ही केंद्र सरकार की ओर से कोई संकेत मिला है, पर वर्तमान में जो कुछ है, उससे पता चलता है कि नए साल के जश्न का जायका खराब होने वाला है.

सिलीगुड़ी और पूरे बंगाल में शराब की कीमत में भारी इजाफा देखा जा रहा है. यहां नवंबर उत्तरार्ध से ही शराब की कीमत में भारी इजाफा हो चुका है. नया साल और जश्न की बात होती है तो वहां शराब की बात अपने आप होने लगती है. नए साल के लिए जब आप जश्न मनाएंगे तो आपकी जेब पर बोझ बढ़ने वाला है. केवल शराब ही नहीं, बल्कि मांस, अंडा, मछली सब की कीमत बढ़ गई है. चिकन की कीमत ₹260 प्रति किलो से ज्यादा हो चुकी है जबकि साधारण रोहू मछली भी ₹200 से लेकर ₹250 प्रति किलो बिक रही है. अंडे का ट्रे भी काफी महंगा हुआ है. कम से कम ₹20 से लेकर ₹30 तक कीमत बढ़ाई गई है. इस तरह से सिलीगुड़ी के लोगों को नए साल का जश्न भारी पड़ने जा रहा है.

उपरोक्त के अलावा राष्ट्रीय स्तर पर 1 जनवरी से कुछ नए बदलाव भी होने जा रहे हैं. इन बदलावों में प्रमुख बदलाव इस प्रकार हैं. मैन्युफैक्चरिंग कंपनियां 1 जनवरी से 19 तरह के आइटम की पैकिंग पर ग्राहकों को संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएगी. इनमें दूध, चाय, बिस्कुट, तेल, आटा, पानी की बोतल, बेबी फूड, दाल, अनाज, सीमेंट,ब्रेड, डिटर्जेंट आदि शामिल है. पैकेट पर मैन्युफैक्चरिंग डेट और एक्सपायरी डेट सब कुछ लिखा रहेगा. एक तरह से ग्राहकों के लिए यह अच्छी बात है. उन्हें इससे गुणवत्ता का भी पता चलेगा.

1 जनवरी से ही मोबाइल फोन कंपनियों को बिक्री से पहले हैंडसेट के ईएमई नंबर को आईसीडीआर पोर्टल पर रजिस्टर करना होगा. अभी तक राष्ट्रीय अथवा क्षेत्रीय स्तर के टीवी चैनल अपनी मर्जी के अनुसार समाचार और शोज चलाते रहे हैं. परंतु 1 जनवरी से सभी टीवी चैनल्स को प्रत्येक दिन कम से कम आधे घंटे का देशहित कांटेक्ट भी टेलीकास्ट करना होगा. व्यापार और व्यापारियों के लिए भी कुछ बदलाव है. सालाना टर्नओवर अगर 5 करोड़ से ज्यादा है तो ऐसे व्यापारियों को ई वॉइस बनाना जरूरी होगा. पहले इसकी सीमा 20 करोड तय की गई थी. अब 1 जनवरी से यह बदलाव होने जा रहा है.

1 जनवरी से एचडीएफसी के नए नियम जारी होने जा रहे हैं.अगर आपका खाता एचडीएफसी बैंक में है तो आपके लिए जान लेना जरूरी है. कम से कम क्रेडिट कार्ड के रीवार्ड प्वाइंट पर बदलाव होने जा रहे हैं. अब आप समझ सकते हैं कि नया साल आपके जीवन को किस तरह प्रभावित करने जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *