February 22, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

भारत में कोरोना की वापसी रोकने के लिए सरकार हुई गंभीर!

चीन में कोरोना से हाहाकार मचा है. अमेरिका, जापान, कोरिया, ब्राजील समेत विश्व के 10 से ज्यादा देशों में कोरोना के मामलों में लगातार तेजी आ रही है. यह सब देख कर भारत के हाथ-पांव फूलने लगे हैं. बड़ी मुश्किल से भारत कोरोना से संभला है. एक बार फिर यहां कोरोना पांव ना पसारे, भारत सरकार ने देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सतर्कता के लिए पत्र लिखा है और राज्यों से अनुरोध किया है कि वे पॉजिटिव मामलों के सैंपल जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजें ताकि कोरोना के नए वैरीअंट का पता लगाया जा सके.

वर्तमान में भारत में कोरोना लगभग शांत पड़ चुका है.लेकिन जिस तरह से विश्व के विभिन्न देशों में कोरोना ने पांव पसारना शुरू कर दिया है उसे देखते हुए भारत सरकार सभी तरह की तैयारियों में जुट गई है. जरा विश्व के देशों में कोरोना से मची तबाही और मौतों के आंकड़ो पर एक नजर डाल लेते हैं. अमेरिका में सोमवार को 19893 नए केस सामने आए जबकि 117 लोगों की मौत हो गई. जर्मनी में 161 लोगों की जान चली गई. जापान में 1 दिन में 72000 से ज्यादा मामले सामने आए और 180 लोगों की मौत हुई. ब्राजील में 1 दिन में 29579 मामले सामने आए जबकि 140 लोगों की मौत हो गई.दक्षिण कोरिया में 26622 मामले आए. 39 लोगों की मौत हुई. फ्रांस में 8213 मामले और 178 लोगों की मौत हुई है.

जहां तक चीन का मामला है, तो वहां कोरोना से हाहाकार मचा है. चीन में हालात इतने गंभीर है कि अस्पतालों के सारे बेड भर चुके हैं. लोगों को दवाइयां नहीं मिल रही हैं. चीन की राजधानी बीजिंग में श्मशान में 24 घंटे अंतिम संस्कार किए जा रहे हैं. वहां मौतों की तादाद इतनी अधिक है कि अंतिम संस्कार के लिए वेटिंग में 2000 तक लाशे रखी गई हैं. चीन में कोरोना प्रतिबंधों में ढील के बाद संक्रमण की रफ्तार बुलेट की गति से भाग रही है.

विशेषज्ञों का कहना है कि चीन में कोरोना के मामले घंटों में दोगुने हो रहे हैं. अमेरिकी वैज्ञानिक और महामारी विशेषज्ञ एरिक फेगल डिंग ने सोशल मीडिया पर चीन के आंकड़े शेयर करते हुए कहा है कि 90 दिन में चीन की 60% आबादी तथा दुनिया के 10% लोग कोरोना से संक्रमित होंगे. उन्होंने लगभग 10 लाख मौतों की आशंका व्यक्त की है.

यह खबर भारत को जरूर डरा रही है. भारत में लोग कोरोना को लगभग भुला चुके थे. यहां कोरोना से बचाव के लिए फेस मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग आदि सभी एहतियाती तौर तरीके लोग लगभग भूल चुके हैं. सरकार विकास और चुनाव पर ध्यान दे रही है. इसी बीच पहले चीन उसके बाद अमेरिका, ब्राजील और अन्य देशों में कोरोना के पांव पसारते देखकर भारत सरकार अलर्ट मोड पर आ गई है.

आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया महामारी की स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं. अब यह देखना होगा कि सरकार का इस दिशा में अगला कदम क्या होता है.हो सकता है कि यहां एक बार फिर से सोशल डिस्टेंसिंग, फेस मास्क आदि कोविड-19 बचाव के तौर तरीके से संबंधित दिशानिर्देश पश्चिम बंगाल सरकार और दूसरे राज्यों के द्वारा जारी किया जा सके. कल परसो तक बंगाल सरकार के भी इस संबंध में दिशा निर्देश आने की संभावना है. वैसे यह सब कुछ भारत में नए वेरिएंट के पाए जाने के बाद ही होने के आसार जानकार मान रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status