February 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

लक्ष्मी टाउनशिप वर्सेज चांदमणि उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी! चांदमनी उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी पर गंभीर आरोप!

चांदमूनी उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी एक बार फिर सुर्खियों में है. सोसाइटी के 19 सदस्यों पर सिक्योरिटी गार्ड तथा उनके परिवार के साथ मारपीट, धमकाने और उन्हें जान से मारने का आरोप लक्ष्मी टाउनशिप लिमिटेड ने लगाया है. लक्ष्मी टाउनशिप द्वारा दर्ज कराई गई एफ आई आर में 30 मार्च की घटना का उल्लेख है. कंपनी के द्वारा पुलिस प्रशासन से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध तथा पीड़ित सिक्योरिटी परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया गया है. इस घटना के बाद सिक्योरिटी गार्ड तथा उनके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है. ऐसे में पूरा परिवार सहमा हुआ है. सिक्योरिटी गार्ड के परिवार खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.

यह घटना कैसे घटी, क्यों घटी… इसके बारे में जानने के लिए घटना की पृष्ठभूमि में जाना जरूरी है. लक्ष्मी टाउनशिप लिमिटेड एक कंपनी है, जिसने माटीगाड़ा में सैटेलाइट टाउनशिप को विकसित किया है, जिसे उत्तरायण भी कहा जाता है. कंपनी ने यह भूमि पश्चिम बंगाल सरकार से लीज पर ले रखी है.

20 जून 2017 को लक्ष्मी टाउनशिप ने सैटेलाइट टाउनशिप के रखरखाव तथा प्रबंधन के लिए चांदमणि उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी के साथ एक एग्रीमेंट किया. इसके बाद चांदमणि उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों के द्वारा मेंटेनेंस का कार्य शुरू कर दिया गया एग्रीमेंट के अनुसार सोसायटी के सदस्यों ने कंपनी के स्वामित्व भूमि तथा दफ्तर को अस्थाई तौर पर इस्तेमाल करने का करार किया और बाद में उसे कंपनी को फिर से सौंप देने की बात कही. आरोप है कि सोसायटी के सदस्यों ने बाद में सैटेलाइट टाउनशिप के ऑफिस आदि पर स्थाई रूप से कब्जा जमा लिया और उसे छोड़ने से इंकार कर दिया.

इस बीच सिलीगुड़ी में g20 सम्मिट के मद्देनजर लक्ष्मी टाउनशिप ने सेफ्टी व सिक्योरिटी के मद्देनजर वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों से जी-20 सम्मेलन चलने तक ऑफिस बंद करने का आग्रह किया. लेकिन उन्होंने इसे इनकार कर दिया. उत्तरायण के सिक्योरिटी गार्ड घटना की सुबह ऑफिस बंद कराने के लिए वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों के पास गए तथा उन से एक बार फिर ऑफिस बंद करने का अनुरोध किया.

लेकिन वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों ने सिक्योरिटी गार्ड तथा उनके परिवार को ही बुरा भला कहना शुरू कर दिया. आरोप है कि उन्होंने उसके साथ मारपीट भी की. माटीगाड़ा थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार चांदमणि उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों ने कुछ लोगों को गोलबंद किया. उन्होंने सिक्योरिटी कार्ड तथा उसके परिवार के घर में घुसकर उनके साथ मारपीट की और सिक्योरिटी गार्ड की पत्नी के गले से सोने की चेन छीन ली.

इस घटना के बाद सिक्योरिटी गार्ड तथा उसका परिवार असुरक्षित महसूस कर रहा है. लक्ष्मी टाउनशिप लिमिटेड की ओर से पुलिस प्रशासन से अनुरोध किया गया है कि तत्काल इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए उचित कार्रवाई की जाए तथा दोषियों के खिलाफ कानून के तहत सख्त करवाई की जाए. चांदमणि उत्तरायण वेलफेयर सोसाइटी के जिन सदस्यों के नाम एफ आई आर में दर्ज हैं, खबर समय उनका पक्ष जानने के लिए उनसे संपर्क बनाने की कोशिश कर रहा है. फिलहाल यह मामला माटीगाड़ा पुलिस के अधीन है. अब देखना है कि पुलिस इस पूरे मामले को किस रूप में लेती है तथा नामजद आरोपियों के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है. एफ आई आर में जिन लोगों के नाम दर्ज हैं, वे सिलीगुड़ी के रसूखदार लोग हैं. कुछ नाम इस प्रकार हैं श्रवण कुमार चौधरी, डॉ राजेश कुमार, विनोद कुमार गुप्ता, सुशील कुमार अग्रवाल, आरके सिंह, विमल डालमिया, कुलदीप बंसल, मनोज राजगढ़िया ,केके सिंह ,अभिजीत दत्ता इत्यादि 19 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status