June 16, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

वर्ल्ड कप कौन ले जाएगा? इंडिया या ऑस्ट्रेलिया…

सिलीगुड़ी में फिलहाल या तो छठ पूजा का आस्था रंग चढ़ चुका है. या फिर क्रिकेट का बुखार. क्योंकि छठ पूजा और वर्ल्ड कप दोनों एक ही दिन और लगभग एक ही समय है. जिस समय छठ घाटों पर श्रद्धालू और व्रती होंगे, उस समय गुजरात के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में वर्ल्ड कप का मैच शुरू हो चुका होगा. क्या भारत वर्ल्ड कप ले जाएगा या फिर ऑस्ट्रेलिया का वर्ल्ड कप पर कब्जा होगा? खूब सस्पेंस बना है.

सिलीगुड़ी के बाजारों में छठ पूजा की खरीददारी चल रही है तो इसके साथ लोग आपस में वर्ल्ड कप मैच के बारे में भी चर्चा कर रहे होते हैं.कोई भी दावे के साथ कुछ कहने की स्थिति में नहीं है. क्योंकि एक तरफ इंडिया तो दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया होगा. वनडे विश्व कप के फाइनल में 20 साल के बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया की खिताबी भिड़ंत हो रही है. भारत 1983 में कपिल देव की कप्तानी में पहली तथा 2011 में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में दूसरी बार वनडे में विश्व चैंपियन बन चुका है.

इन दोनों ऐतिहासिक जीतो के बीच एक समय ऐसा भी आया था जब भारत बेहद करीब आकर विश्व कप जीतने से चूक गया था. अगर भारत की ऑस्ट्रेलिया से खिताबी भिड़ंत हो तो अक्सर ऐसा ही देखने को मिलता है.इसलिए मैच खत्म होने तक सस्पेंस बना रहता है. दोनों ही टीम वर्ल्ड की सबसे बेहतरीन टीम है. किसी को किसी से कम नहीं आंका जा सकता. सौरव गांगुली की कप्तानी वाली भारतीय टीम 2003 के विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद विश्व विजेता नहीं बन पाई थी. उस समय भी ऑस्ट्रेलिया से भारत का मुकाबला हुआ था. ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 125 रनों से हराया था.

अब 20 साल बाद एक बार फिर से वर्ल्ड की दो बेहतर टीमें छठ पूजा के दिन फाइनल खेल रही है. कुछ लोग 2003 और 2023 वर्ल्ड कप के बीच एक कनेक्शन देख रहे हैं. 2003 में जिस स्थान पर इंडिया था, आज 2023 में वहां ऑस्ट्रेलिया है.ऑस्ट्रेलिया तब ग्रुप चरण के सारे 6 मैच जीत कर सुपर सिक्स तथा सेमीफाइनल जीतते हुए फाइनल में पहुंचा था. इस बार भारत ग्रुप चरण के अपने सारे 9 मैच जीतकर तथा सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को हराकर फाइनल में पहुंचा है. इस बार ग्रुप चरण में उसने आस्ट्रेलिया को हराया है. उस समय ऑस्ट्रेलिया पहले फाइनल में पहुंची थी. इस बार भारत पहुंचा है. 2003 और 2023 के बीच क्या कनेक्शन है, इसको समझ पाना फिलहाल काफी कठिन है.

सिलीगुड़ी में क्रिकेट का बुखार हर समय नौजवानों पर रहता है. कई श्रद्धालुओं ने छठ मैया से भारत को वर्ल्ड कप में जीत दिलाने की कामना और प्रार्थना की है. इसी से पता चलता है कि सिलीगुड़ी में क्रिकेट का बुखार किस कदर चढ़ा हुआ है. सिलीगुड़ी की छठ पूजा कमेटियां, जो कई दिनों से छठ घाट को सजाने और स॔वारने में लगी है, नहीं चाहती कि छठ पूजा के दिन छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ कम हो.

इसको ध्यान में रखते हुए सिलीगुड़ी की कई छठ पूजा समितियां छठ घाट पर ही फाइनल वर्ल्ड कप मैच का आनंद उठाने के लिए बड़े-बड़े टीवी स्क्रीन लगा रही है. सिलीगुड़ी शहर के अधिकांश छठ पूजा घाटों पर प्रोजेक्टर अथवा एलईडी स्क्रीन लगाने की तैयारी चल रही है.कई छठ पूजा समितियों के प्रमुखों से हुई बातचीत के अनुसार संध्या अर्घ्य के दौरान लोग छठ घाट से नहीं जाए, इसके लिए टीवी पर वर्ल्ड कप फाइनल मैच दिखाने की व्यवस्था की जा रही है.

क्रिकेट के इतिहास में यह पहला मौका है, जब छठ पूजा पर इतना बड़ा वर्ल्ड कप मैच का आयोजन हो रहा है. खेल प्रेमी और श्रद्धालु दोनों ही छठ घाट पर टिके रहे, इसके लिए यह व्यवस्था की जा रही है. मिली जानकारी के अनुसार संतोषी नगर छठ घाट, गुरुंग नगर छठ घाट समेत कई छठ घाटों पर क्रिकेट मैच दिखाने की योजना बनाई गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *