June 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

साफ-सफाई में ‘वंदे भारत’ ट्रेन विमान से लेगी कड़ी टक्कर!

भारतीय रेलवे के साफ सफाई के इतिहास में शायद यह पहला मौका होगा, जब वंदे भारत ट्रेन की साफ-सफाई ठीक उसी तरह से की जाएगी, जिस तरह से फ्लाइट में साफ सफाई की जाती है. पहली बार भारतीय रेलवे वंदे भारत ट्रेन की साफ-सफाई को लेकर हाईटेक कदम उठा रहा है.

दरअसल वंदे भारत ट्रेन में कूड़ा कचरा फैलाए जाने के अलग-अलग चित्र और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. भारत में चलने वाली सभी रेलगाड़ियों में वंदे भारत ट्रेन सबसे अलग ना केवल बनावट के आधार पर ही बल्कि ट्रेन में व्याप्त सुविधाओं को देखते हुए भी सर्वथा अलग है. हाई स्पीड के साथ ही यात्रियों के लिए आरामदेह, स्वच्छ और सरलता की विश्वसनीयता का कोई एक उदाहरण वंदे भारत ट्रेन हो सकता है.

न्यू जलपाईगुड़ी से कोलकाता के लिए वंदे भारत ट्रेन नियमित रूप से चल रही है. पहली बार उत्तर बंगाल और दक्षिण बंगाल को कम समय में जोड़ने वाली बुलेट की तर्ज पर चलने वाली रेलगाड़ी को आरंभ से ही कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा है. वंदे भारत ट्रेन पर पत्थरबाजी की घटनाएं और उसके बाद अब दूसरी आम रेलगाड़ियों की तरह उसमें भी कचरा फैलाए जाने की घटना से यात्री दुखी हैं और रेलवे तथा रेल मंत्री से बंदे भारत जैसी ट्रेनों की पहचान बनाए रखने की मांग कर रहे हैं.

यात्रियों तथा अधिकारियों की शिकायत को रेल मंत्रालय ने गंभीरता से लिया है. खुद रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रेल में कूड़ा कचरा फैलाए जाने को संज्ञान में लेते हुए रेल के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि जिस तरह से विमान में साफ सफाई की व्यवस्था की जाती है, ठीक उसी तरह की व्यवस्था वंदे भारत ट्रेन में भी होनी चाहिए.

अगर आप फ्लाइट से यात्रा कर रहे हो तो आपने देखा होगा कि एक सफाई कर्मचारी कचरा संग्रह बैग को विमान में बैठे यात्री के पास ले जाता है तथा यात्री से कूड़ा बैग में कचरा डालने की अपील करता है. ठीक उसी तरह की सफाई प्रक्रिया वंदे भारत ट्रेन में भी शुरू की जा रही है. लेकिन रेलवे तथा रेल मंत्री की सफाई प्रक्रिया तभी मुकम्मल हो पाएगी जब वंदे भारत ट्रेन के यात्रियों का भी उस में सहयोग मिलेगा. क्योंकि स्वच्छता केवल रेलवे का ही विषय नहीं है. संपूर्ण स्वच्छता यात्रियों और रेलवे के सहयोग से ही पूरी होती है. यही कारण है कि रेल मंत्री ने यात्रियों का नई सफाई प्रक्रिया में सहयोग मांगा है.

आपको बताते चलें कि सोशल मीडिया पर वायरल कुछ रिपोर्टों में वंदे भारत ट्रेन की तस्वीरों को ट्वीट किया गया था, जिसमें ट्रेन के गंतव्य पर पहुंचने के बाद इस्तेमाल किए गए खाने के पैकेट और अन्य कचरा बिखरा हुआ दिखाया गया था. इसके बाद मंत्री से मामले में तत्काल कार्रवाई करने का आग्रह किया गया था.

इस समय देश भर में वंदे भारत ट्रेन की कई जोड़ी ट्रेनें चल रही है.सिकंदराबाद विशाखापट्टनम वंदे भारत एक्सप्रेस में प्लेट, कप और अन्य कचरे बिखडे पड़े होने की पहले से ही खबरें थी. रेल के अधिकारियों ने विशाखापत्तनम पहुंचने पर ट्रेन गंदा पाया. जबकि सफाई कर्मचारियों ने अपना काम बखूबी किया था. हालांकि ट्रेन में कूड़ा फेंकने के लिए कूड़ेदान भी हैं. लेकिन इन सबके बावजूद यात्रियों की लापरवाही अथवा कुछ शरारती तत्वों के कारण ट्रेन की पहचान को खतरा उत्पन्न हो रहा है. ऐसे में सरकार ने मामले को संज्ञान में लेकर तुरंत कार्रवाई और ट्रेन की उच्च स्तरीय विमान की तर्ज पर सफाई का निर्देश दिया है.

रेल मंत्री के इस निर्देश के बाद अब यह देखना होगा कि वंदे भारत ट्रेन साफ-सफाई के मामले को लेकर विमानों से कितनी टक्कर ले रही है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *