February 24, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिलीगुड़ी का दिल जीतने में कितना कामयाब हो पाएंगे मेयर गौतम देव!

सिलीगुड़ी नगर निगम के मेयर गौतम देव ने एक बार फिर से जनसंपर्क अभियान शुरू कर दिया है.उनसे पहले हाल ही में तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी ने कूचबिहार में जनसंपर्क अभियान शुरू किया था. जनसंपर्क अभियान वास्तव में जनता को प्रशासन से सीधे जोड़ने का अभियान होता है.राजनीतिक दलों के नेता जनसंपर्क अभियान के माध्यम से अपनी पार्टी और खुद अपना वजूद चमकाने की कोशिश करते हैं. जनता में पार्टी और नेता का प्रभाव जमाने के लिए ही राजनीतिक दलों के नेता अक्सर जनसंपर्क अभियान शुरू करते हैं.

देखा जाए तो आज मेयर गौतम देव, अभिषेक बनर्जी या खुद ममता बनर्जी जो जनसंपर्क अभियान शुरू करते हैं, हमारे देश में उसकी परंपरा काफी पहले से चली आ रही है. महात्मा गांधी ने देश को आजाद कराने के लिए जनसंपर्क अभियान शुरू किया था. जयप्रकाश नारायण ने इंदिरा गांधी की इमरजेंसी के जवाब में जनसंपर्क अभियान शुरू किया था. इतिहास गवाह है कि जनसंपर्क अभियान में आमतौर पर राजनीतिक दलों अथवा नेताओं को सफलता मिलती रही है. गौतम देव ने अपने अभियान का नाम मानुषेर काछे चलो प्रोग्राम नाम दिया है. यह उनका कोई नया प्रोग्राम नहीं है. सर्वप्रथम उन्होंने फुलबारी से 2012 में यह अभियान शुरू किया था. जिसमें उन्हें काफी सफलता मिली थी.

लेकिन क्या उनकी यह कर्मसूची भी उन्हें उतनी ही सफलता दिला पाएगी ? इसका उत्तर आसान नहीं है. क्योंकि सिलीगुड़ी में अनेक समस्याएं हैं. यहां के निवासी घर से लेकर कारोबार तक समस्याओं का सामना करते रहे हैं. सड़क, बिजली, पानी की समस्या आज भी है.हालांकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पथ श्री योजना में संपर्क सड़कों का कार्य तो हुआ है.परंतु पेयजल समस्या अब भी यहां गंभीर है. सिलीगुड़ी के बस्ती क्षेत्रों में आज भी लोग आयरन का जल पीने के लिए मजबूर हैं. कारोबारी भी कई तरह की समस्याओं का सामना कर रहे हैं.अब देखना होगा कि गौतम देव के इस जनसंपर्क अभियान से किसे कितना फायदा मिलता है!

गौतम देव का यह प्रोग्राम 1 मई से शुरू हुआ है. 1 मई को मेयर गौतम देव ने डिप्टी मेयर रंजन सरकार, कमल अग्रवाल और अन्य वरिष्ठ सहयोगियों के साथ सिलीगुड़ी नगर निगम के वार्ड नंबर 2 में भ्रमण किया था. उन्होंने पूरा समय वार्ड नंबर 2 को दिया. इस दौरान उन्होंने विभिन्न वर्गों और समाज के लोगों से बातचीत की.उनकी समस्या सुनी और समाधान का सूत्र तलाश करने की कोशिश की.गौतम देव ने बताया कि इस तरह का प्रोग्राम सिलीगुड़ी नगर निगम के सभी 47 वार्डों में चलता रहेगा. उन्होंने बताया कि उनकी योजना है कि महीने में कम से कम 3 या 4 दिन जनसंपर्क अभियान शुरू किया जाए. उनका यह कार्यक्रम काफी लंबा चलने वाला है.

सिलीगुड़ी के लोग आरंभ से ही विभिन्न समस्याओं से दो-चार हो रहे हैं.शहर में पेयजल समस्या,स्वच्छता की समस्या, नाली की समस्या, जल निकासी की समस्या, इत्यादि प्रमुख समस्याएं हैं.नागरिकों को उपरोक्त साधारण समस्याओं से मुक्ति दिलाने की वाममोर्चा शासित बोर्ड से ही कोशिश चल रही है.परंतु कामयाबी नहीं मिली. अब सिलीगुड़ी नगर निगम में तृणमूल का बोर्ड गठन हुआ है. ऐसे में तृणमूल कांग्रेस चाहती है कि सिलीगुड़ी के लोगों का दिल जीतने के लिए जितना संभव हो सके,उनकी समस्या कम से कम की जाए. इसी अभियान पर मेयर गौतम देव निकले हैं.

आपको बताते चलें कि मेयर गौतम देव ने कुछ समय पहले ‘टॉक टू मेयर’ कार्यक्रम शुरू किया था. उनका यह कार्यक्रम अभी चल रहा है. और इसमें उन्हें काफी सफलता मिली है. मानुषेर काछे चलो प्रोग्राम को भी इसी कड़ी का एक अंग माना जा सकता है. अंतर सिर्फ इतना है कि इस अभियान में लोग सीधा मेयर से मिलेंगे और अपनी समस्या बताएंगे. अब मेयर शहर के लोगों की समस्या का कितना समाधान कर पाते हैं, यह तो आने वाला कल ही बताएगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status