April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिलीगुड़ी में नहीं पड़ेगी इस बार सर्दी!

अगर आप कड़कड़ाती सर्दी का इंतजार कर रहे हैं तो शायद यह संभव नहीं होगा. जनवरी महीने में थोड़ी सर्दी और बढ़ सकती है. लेकिन यह कंपकपाने वाली सर्दी नहीं होगी और ना ही आग जलाकर हाथ सेकने की नौबत आएगी. जैसा कि पिछले साल लोगों ने महसूस किया था. इस बार सर्दी का रंग उतर रहा है.

अब यह ग्लोबल वार्मिंग के कारण हो रहा है या किसी और कारण से. यह तो अध्ययन और अनुसंधान की बात है. परंतु इस समय मौसम विभाग तो यही संकेत दे रहा है कि कम से कम पश्चिम बंगाल में तो सर्दी की विदाई हो रही है. बंगाल की खाड़ी में जो चक्रवात बन रहा है, उससे तेज हवाएं एकदम से गायब हो गई है.उसके स्थान पर जलवाष्प बन रहा है.इसका मतलब यह है कि गर्म हवाओं की ताकत बढ़ जाएगी. तो जाहिर है कि ऐसे में तापमान बढ़ेगा और सर्दी छूमंतर होगी.

अलीपुर मौसम विभाग की यह भविष्यवाणी पश्चिम बंगाल के लिए है. जबकि भारतीय मौसम विभाग देश के अन्य राज्यों खासकर उत्तर भारत में तापमान में गिरावट का अनुमान लगा रहा है.अगले कुछ दिनों में कोहरा भी होगा. उत्तर भारत के कई राज्यों में वर्षा और हिमपात के भी आसार हैं. अनुमान लगाया जा रहा है कि नए साल के आरंभ में सर्दी बढ़ेगी और कोहरा भी घना होगा. जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश तथा उत्तराखंड में वर्षा और हिमपात हो सकता है. 30 दिसंबर से 2 जनवरी के बीच पंजाब ,हरियाणा, उत्तर प्रदेश ,दिल्ली, मध्य प्रदेश ,गुजरात एवं राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश हो सकती है.

सिलीगुड़ी में इस समय मामूली ठंड है. दिन में धूप तेज हो रही है. इस वजह से लोगों को गर्मी का भी एहसास हो रहा है. लेकिन सुबह शाम ठंड ज्यादा बढ़ जाती है. फिर भी ऐसी ठंड नहीं होती कि लोग अलाव जला कर हाथ सेक सकें. अगले कुछ दिनों तक ठंड का ऐसा ही हाल रहेगा. सिलीगुड़ी समेत उत्तर बंगाल में तो फिर भी कुछ ठंड है. जबकि दक्षिण बंगाल में लगातार तापमान बढ़ रहा है. कोलकाता में लगातार तापमान बढ़ रहा है.

पंजाब, हरियाणा के लिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है. इन प्रदेशों में कोहरा बढ़ेगा. इसके अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड तथा उड़ीसा के कुछ भागों में भी कोहरा का घनत्व बढ़ जाएगा. यह सब पश्चिमी विक्षोभ के कारण हो रहा है. यह एक तरह की चक्रवाती हवा है,जो भूमध्य सागर से निकलकर पूर्व की ओर बढ़ती है. इससे भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी और पश्चिमी भागों में बारिश और हिमपात होता है. अगर अंतिम समय में मौसम में कुछ और उलटफेर नहीं होता है तो इस बात की पूरी संभावना है कि सर्दी बंगाल से जुदा हो जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status