February 5, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

नेपाल और बांग्लादेश के लिए सिलीगुड़ी एक बड़ा बाजार! सिलीगुड़ी से बांग्लादेश बस सेवा शीघ्र!

आज जो सिलीगुड़ी आप देख रहे हैं, बहुत जल्द इसकी तकदीर बदलने वाली है. व्यापार, संबंध, पर्यटन, कृषि, तकनीकी और इस तरफ से सभी क्षेत्रों में सिलीगुड़ी की समृद्धि बढ़ने वाली है! नेपाल और बांग्लादेश के लिए सिलीगुड़ी एक बड़ा बाजार बन सकता है!

सिलीगुड़ी से नेपाल के लिए बस सेवा पहले से ही चल रही है. सिलीगुड़ी जंक्शन स्थित बस स्टैंड से नेपाल के काठमांडू के लिए बस जाती है और फिर काठमांडू से सिलीगुड़ी आ जाती है. यह बस सेवा जुलाई 2022 में शुरू की गई थी.

जिस तरह से सिलीगुड़ी से काठमांडू के लिए बस सेवा शुरू करने के लिए सिलीगुड़ी के लोगों ने आवाज उठाई थी. ठीक उसी तरह से सिलीगुड़ी से ढाका के लिए बस सेवा आरंभ करने की मांग काफी समय से की जा रही है. ऐसा लगता है कि सरकार सिलीगुड़ी वासियों की इस चिर प्रतिक्षित मांग को जल्द ही पूरा करने जा रही है.

एनबीएसटीसी के चेयरमैन पार्थ प्रतिम राय ने संकेत दे दिया है कि बहुत जल्द सिलीगुड़ी से फुलबारी होते हुए बांग्लादेश के लिए बस चलेगी. एक निजी परिवहन कंपनी के ऑपरेटर से बातचीत चल रही है.पार्थ प्रतिम राय ने आश्वासन दिया है कि जल्द ही इसका नतीजा सामने आएगा. अर्थात निजी परिवहन कंपनी के सहयोग से बहुत जल्द सिलीगुड़ी से ढाका के लिए बस सेवा आरंभ हो जाएगी.

जिस तरह से सिलीगुड़ी और नेपाल का रिश्ता है, ठीक उसी तरह से सिलीगुड़ी और बांग्लादेश का रिश्ता रहा है. सिलीगुड़ी में निवास करने वाले अनेक व्यक्तियों के पारिवारिक और व्यापारिक संबंध नेपाल और बांग्लादेश से जुड़े हैं. सिलीगुड़ी से बांग्लादेश के लिए बस सेवा आरंभ होने से परिजन आपस में मिलजुल सकेंगे. साथ ही व्यापारिक कार्यों में गति आएगी. इसके साथ साथ सिलीगुड़ी और उत्तर बंगाल पर्यटन का विस्तार भी होगा.

जानकार मानते हैं कि आने वाले समय में सिलीगुड़ी नेपाल और बांग्लादेश के लिए एक बड़ा बाजार बनने जा रहा है. यहां काफी संख्या में पर्यटक आएंगे. इससे सिलीगुड़ी का व्यापार बढ़ेगा तथा उत्तर बंगाल और पहाड़ के पर्यटन स्थलों का विकास होगा.

बता दें कि सिलीगुड़ी से बांग्लादेश बस सेवा आरंभ होने से यात्रियों को भारत-बांग्लादेश सीमा पर बस बदलनी होगी. जिस तरह से ढाका से चेंगराबंदा के लिए बस सेवा शुरू की गई है तो यात्रियों को चेंगराबंधा से बस बदलकर फिर कूचबिहार के लिए बस पकड़नी होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *