February 22, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिलीगुड़ी से माल बाजार इलेक्ट्रिक ट्रेन चलने को तैयार!

सिलीगुड़ी जंक्शन से माल बाजार, सेवक के रास्ते अलीपुरद्वार तक जाने वाली रेलवे रूट के विद्युतीकरण का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है. सिलीगुड़ी जंक्शन से न्यू माल जंक्शन तक रेलवे विद्युतीकरण का काम संपूर्ण हो चुका है और अब इसका परीक्षण किया जा रहा है.

पिछले काफी समय से इस रूट से होकर चलने वाली रेलगाड़ियों के लिए रेल मार्ग के विद्युतीकरण का काम किया जा रहा है. पिछले दिनों अलीपुरद्वार डिवीजन के डीआरएम तथा नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे के मुख्य विद्युत अधिकारी की देखरेख में उच्च स्तरीय निरीक्षण का कार्य किया जा चुका है.

रविवार को आखिरी दौर का निरीक्षण कार्य किया गया.रेलवे अधिकारी संतुष्ट हैं. अब इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने के लिए परमिट की मांग की गई है. सूत्र बता रहे हैं कि आज कल में परमिट मिल जाने वाली है.

जैसे ही हरी झंडी मिल जाती है. इस रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन की ट्रेन दौड़ने लगेंगी. आपको बताते चलें कि सिलीगुड़ी जंक्शन से माल बाजार होते हुए अलीपुरद्वार तक इलेक्ट्रिक इंजन की ट्रेन चलने से न्यू जलपाईगुड़ी से जलपाईगुड़ी, कूचबिहार होते हुए अलीपुरद्वार और असम तक जाने वाली रेलगाड़ियों का ट्रैफिक कुछ कम होगा.

वर्तमान में न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन से असम जाने वाली रेलगाड़ियों का एकमात्र मार्ग होने के कारण पैसेंजर, मेल और एक्सप्रेस रेलगाड़ियों के आवागमन में विलंब होना स्वाभाविक है. यहां तक कि गुवाहाटी से चलकर एनजेपी पहुंचने वाली राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन भी कुछ देरी से पहुंचती है.

सिलीगुड़ी से न्यू माल जंक्शन तक रेलवे विद्युतीकरण होने से सिलीगुड़ी जंक्शन से चलने वाली पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेनों की गति में इजाफा होगा. इसके साथ ही न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन का ट्रैफिक भार हल्का होगा.

इसका सबसे बड़ा लाभ सिलीगुड़ी से न्यू माल जंक्शन तक के निवासियों को होने जा रहा है. पर्यटक भी काफी लाभान्वित होंगे. पर्यटन क्षेत्र का मुआयना कम समय में हो सकेगा. इस रूट से छुक छुक कर जाने वाली रेलगाड़ियां काफी समय लगाती हैं. कई बार यात्री परेशान हो जाते हैं. समय पर नहीं पहुंचने से व्यापारियों का व्यापार प्रभावित होता है. माल बाजार से सिलीगुड़ी आने वाले व्यापारी समय पर सिलीगुड़ी पहुंचेंगे और सिलीगुड़ी के व्यापारी समय पर माल बाजार पहुंचेंगे. ऐसे में उनके बीच रिश्ता और प्रगाढ़ होगा. ऐसे यात्रियों के चेहरे पर खुशी देखी जा रही है.

साथ ही Dooars भ्रमण करने जाने वाले पर्यटक भी मौज में रहेंगे. कई बार सिलीगुड़ी से बाहर के पर्यटक Dooars भ्रमण करने के लिए सिलीगुड़ी आते हैं. उन्हें Dooars जाने के लिए बस, टैक्सी अथवा दूसरे यातायात के साधनों पर निर्भर रहना पड़ता है. इलेक्ट्रिक ट्रेन चालू हो जाने से उनकी यात्रा और मनोरंजन दोनों ही सुगम और आसान हो सकेगी. उन्हें ट्रेन से ही हरी-भरी वादियां, पहाड़ और पुल देखने को मिलेंगे. इसके साथ ही उन्हें वनों का अद्भुत नजारा भी देखने को मिलेगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status