February 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी के 11वीं के छात्र सेमेस्टर प्रणाली से होंगे रूबरू!

पश्चिम बंगाल में उच्च माध्यमिक में सेमेस्टर प्रणाली लागू हो गई है. परंतु इसका क्रियान्वयन अगले साल 2024 से होगा, जब दसवीं उत्तीर्ण करने के बाद छात्र-छात्राएं 11वीं में जाएंगे. ग्यारहवीं के छात्रों को दो सेमेस्टर और बारहवीं कक्षा के छात्रों को भी दो सेमेस्टर देने होंगे. 11वीं कक्षा का पहला सेमेस्टर नवंबर 2024 में होगा जबकि दूसरा सेमेस्टर मार्च 2025 में होगा.

सिलीगुड़ी के छात्र-छात्राओं को यह नया अनुभव होगा. क्योंकि अब तक वे सभी सेमेस्टर प्रणाली से दूर थे. पश्चिम बंगाल राज्य की शिक्षा नीति में किए गए प्रस्ताव को लागू किया गया है. उच्चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद इस संबंध में विद्यालय को अधिसूचना देने की तैयारी कर रही है. जानकारी दी गई है कि 2024 में 11वीं कक्षा में प्रवेश पाने वाले सभी छात्र इस नियम के अंतर्गत होंगे. सेमेस्टर प्रणाली में मूल्यांकन महत्वपूर्ण होता है. इसी के आधार पर छात्रों के परीक्षा परिणाम 2026 में घोषित किये जाएंगे.

प्राप्त जानकारी के अनुसार जो छात्र 12वीं कक्षा में होंगे,उन्हें पहला सेमेस्टर नवंबर में ही देना होगा. जबकि दूसरा सेमेस्टर मार्च 2026 में होगा. नतीजे की घोषणा 12वीं कक्षा के दोनों सेमेस्टर के मूल्यांकन के आधार पर की जाएगी. उच्चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद छात्र-छात्राओं को एकदम से नया अनुभव कराने की तैयारी में है. सूत्र बता रहे हैं कि पहले सेमेस्टर से मूल्यांकन का कार्य काउंसिल एम सी क्यू करेगा. सभी छात्र छात्राओं को अपना उत्तर ओएमआर शीट पर लिखना होगा.

मिली जानकारी के अनुसार बारहवीं कक्षा के छात्रों का दूसरा सेमेस्टर अलग हटकर होगा. जहां तक प्रैक्टिकल परीक्षा की बात है, केवल एक ही परीक्षा होगी. उन्हें अपना उत्तर छोटे और बड़े आकार में तैयार करने होंगे. सिलीगुड़ी के छात्र छात्राओं को यह नया अंदाज़ कैसा महसूस होगा, यह तो सेमेस्टर के बाद ही पता चलेगा. परंतु नई शिक्षा नीति को लेकर सिलीगुड़ी के छात्र-छात्राओं में एक हलचल और उत्सुकता जरूर देखी जा रही है.

आपको बताते चलें कि 2021 में शिक्षा परिषद ने उच्च माध्यमिक शिक्षा का मूल्यांकन सेमेस्टर के आधार पर करने का प्रस्ताव रखा था. इसके लिए एक योजना तैयार की गई थी.अब कैबिनेट ने इसे मंजूरी दे दी है. हालांकि इसी सत्र से सेमेस्टर प्रणाली लागू करने की बात थी. परंतु यह संभव नहीं हो सका है. राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी 9वीं से लेकर 12वीं कक्षा तक सेमेस्टर प्रणाली शुरू करने का प्रस्ताव है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status