April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी की आशा कर्मियों और आंगनबाड़ियों को मिला ममता बनर्जी का तोहफा!

सिलीगुड़ी की सड़कों पर तनख्वाह वृद्धि और दूसरी सुविधाओं की मांग को लेकर प्रदर्शन करती आ रही आशा कर्मी और आंगनवाड़ी महिला कार्यकर्ताओं के चेहरे पर कितनी खुशी छलक रही होगी, यह तो पता नहीं. लेकिन सच यह है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनकी सैलरी में इजाफा किया है. चुनाव से पहले आशा कर्मी और आंगनबाड़ी महिलाएं मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद कितनी राहत महसूस कर रही हैं, इस संबंध में अभी तक उनकी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. पर चर्चा है कि कुछ आंगनवाड़ी महिलाएं इस बढ़ोतरी से खुश नहीं है. बिना किसी शोर के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक ही झटके में उनकी सैलरी में 750 रुपए की बढ़ोतरी कर दी है.

मंगलवार को ही मुख्यमंत्री ने इसका संकेत दे दिया था और आज सुबह-सुबह उन्होंने सोशल मीडिया पेज पर आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के वेतन में बढ़ोतरी की घोषणा कर दी. आपको याद होगा कि आंगनबाड़ी और आशा कर्मी महिलाएं काफी समय से सिलीगुड़ी और पूरे बंगाल में आंदोलन कर रही हैं. लेकिन उनकी आवाज दबा दी जाती थी. लोकसभा चुनाव से ठीक पूर्व मुख्यमंत्री ने यह घोषणा करके उन्हें कितना खुश किया है यह तो आने वाले समय में ही पता चलेगा. अब अप्रैल महीने से आंगनबाड़ी और आशा कर्मी महिलाओं को बढ़ी हुई तनख्वाह मिलेगी.

राज्य सरकार सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अप्रैल महीने से आशा कर्मी महिलाओं के 750 रुपए प्रतिमाह बढ़ाए जाएंगे. जबकि आंगनवाड़ी वर्कर और आंगनबाड़ी सहायिकाओं के वेतन में भी इतनी ही बढ़ोतरी होगी. वर्तमान में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को महीने में 8250 दिए जाते हैं. वहीं आईसीडीएस सहायक के लिए ₹500 प्रतिमाह बढ़ाए जाने का फैसला किया गया है. वर्तमान में आईसीडीएस सहायक को ₹6000 प्रतिमाह दिए जाते हैं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य स्तर पर जनता को लुभाने के फैसले करने शुरू कर दिए हैं, तो दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बंगाल की जनता को एक पर एक सौगात देते जा रहे हैं. लोकसभा चुनाव की घोषणा होने तक चाहे प्रधानमंत्री हो या मुख्यमंत्री, उनकी तरफ से ऐसी घोषणाएं स्वाभाविक हैं. क्योंकि लोकसभा चुनाव की घोषणा के बाद जनता को लुभाने वाली सरकारी घोषणाएं नहीं की जा सकती हैं. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में भारत की पहली अंडरवाटर मेट्रो रेल का उद्घाटन किया. इसके साथ ही उन्होंने 15400 करोड रुपए की कई कनेक्टिविटी परियोजनाओं का भी उद्घाटन और शिलान्यास किया.

आज बंगाल के लोगों खासकर कोलकाता वासियों के लिए एक ऐतिहासिक दिन है, जब वे हुगली नदी के नीचे से मेट्रो की सवारी करेंगे. बता दें कि हावड़ा मैदान और एस्प्लेनेड के बीच सुरंग की कुल लंबाई 4.8 किलोमीटर है. इसमें 1.02 किलोमीटर सुरंग हुगली नदी में 30 मीटर नीचे है. प्रधानमंत्री ने आज 6 नई मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. इसके बाद उन्होंने बारासात में एक जनसभा को संबोधित किया. इस जनसभा में प्रधानमंत्री को देखने के लिए भारी भीड़ थी. रैली से पहले प्रधानमंत्री ने एक लंबा रोड शो भी किया. रैली में बोलते हुए प्रधानमंत्री ने संदेश खाली का मुद्दा उठाया और कहा कि संदेश खाली में नारी शक्ति पर अत्याचार का घोर पाप हुआ है. इससे हर किसी का सिर शर्म से झुक गया है. भाजपा ने यहां नारी शक्ति बंदन अभिनंदन कार्यक्रम का आयोजन किया था. उन्होंने मंच से तृणमूल कांग्रेस पर जमकर हमले किए.

वर्तमान में संदेश खाली का मुद्दा काफी गरमाया हुआ है. अभी तक बंगाल पुलिस ने संदेश खाली कांड के आरोपी शाहजहां शेख को सीबीआई के हवाले नहीं किया है. कोलकाता उच्च न्यायालय के आदेश पर सीबीआई ने अब तक तीन मामलों की जांच अपने हाथ में ले ली है. इनमें ED अधिकारियों की शिकायत पर भीड़ द्वारा उनकी टीम पर कथित हमला, निलंबित तृणमूल कांग्रेस नेता शाहजहां के सुरक्षाकर्मी द्वारा ED अधिकारियों के खिलाफ लगाए गए आरोप और एक इडी अधिकारियों पर हमले के संबंध में नजात पुलिस थाना द्वारा स्वत: संज्ञान लेकर दर्ज मामला शामिल है.

ऐसे में भ्रष्टाचार के आरोप और तृणमूल के बागी नेताओं से निपट रही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के द्वारा आज आशा कर्मियों और आंगनबाड़ी महिलाओं के वेतन में वृद्धि उनके चुनाव की नैया कितना बेड़ा पार लगाएगी, यह देखना होगा.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status