April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल जुर्म सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी में भूटानी शराब के गोरख धंधे का हुआ पटाक्षेप!

सिलीगुड़ी में भूटानी शराब बड़े आराम से मिल जाती है. यह सस्ती भी होती है. क्योंकि यह अवैध तरीके से बेची जाती है. सिलीगुड़ी शहर के विभिन्न इलाकों में कुछ लोग अपने घरों में ही ऐसी शराब केवल नियमित ग्राहकों को ही बेचते हैं, जो उनके धंधे के बारे में सारी जानकारी गुप्त रखते हैं. यही कारण है कि पुलिस को खबर नहीं लगती और उनका धंधा भी बेरोक-टोक चलता रहता है.

एक्साइज विभाग के अतिरिक्त आयुक्त सुजीत दास और उनकी टीम ने सिलीगुड़ी से जिस महिला को पकड़ा है और सिलीगुड़ी में चल रहे भूटानी शराब के गोरख धंधे का रहस्योद्घाटन किया है , उसके बाद लोग दांतों तले उंगली दबा रहे हैं. कई महिलाओं की नींद उड़ गई है. सिलीगुड़ी के कई थाना क्षेत्रों में भूटानी शराब चोरी छिपे बेची जा रही थी. खासकर भक्ति नगर, पंजाबी पाड़ा, गुरुंग बस्ती, प्रधान नगर हाकिम पाड़ा, महानंद पाड़ा,खालपाड़ा समेत शहर के पाश इलाकों में यह शराब चोरी छिपे बेची जा रही थी. इस शराब के उपभोक्ताओं में खासकर बड़े-बड़े घरानों की महिलाएं थीं. इतना ही नहीं, शहर में चल रहे शादी विवाह, पार्टी और अन्य अवसरों पर मेहमानों के बीच भूटानी शराब परोसी जाती थी.

जिस महिला को उत्पाद विभाग एवं पुलिस की टीम ने अपनी हिरासत में लिया है, उसका नाम सुमन जैन है. आरोप है कि सुमन जैन इस धंधे में काफी बरसों से सक्रिय रही है. सिलीगुड़ी के पंजाबी पाड़ा में उसका अपना आवास है. खुफिया सूत्रों के आधार पर उत्पाद विभाग की टीम ने उसके पंजाबी पाड़ा स्थित आवास पर दबिश डाली थी. जहां से अधिकारियों को कई खुफिया दस्तावेज हाथ लगे हैं. इसके अलावा बरामद मोबाइल फोन से भी कई सनसनीखेज जानकारी मिल रही है.

सिलीगुड़ी में इस महिला अथवा उनके करियर के द्वारा जिस भूटानी शराब को चोरी चुपके लाया जाता था, उसका गोदाम जय गांव में है. इसी गोदाम में भूटान से शराब लाकर जमा किया जाता था और यहां से सिलीगुड़ी और विभिन्न क्षेत्रों में शराब की आपूर्ति की जाती थी. सिलीगुड़ी में चोरी छिपे भूटानी शराब के गोरख धंधे में कई महिलाएं भी सक्रिय थी. यह अपने घरों में ही भूटानी शराब बेचती थी. सुमन जैन के मोबाइल फोन के व्हाट्सएप ग्रुप से सिलीगुड़ी के कई हाई प्रोफाइल महिलाओं एवं पुरुषों के भी जुड़े होने की जानकारी मिली है. इन नामों की जांच उत्पाद सेवा विभाग ने शुरू कर दी है.

उधर जय गांव स्थित भूटानी शराब के गोदाम पर अलीपुरद्वार एक्साइज विभाग के सुपरिंटेंडेंट ने छापा मार कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो रिश्ते में सुमन जैन का देवर है. उसका नाम अजय अंचलिया है. यही गोदाम का संचालक भी है. दबिश कार्रवाई में अधिकारियों ने जय गांव स्थित गोदाम से 22 से 23 लाख की भूटानी शराब बरामद की है. इधर सिलीगुड़ी में सुमन जैन के ठिकाने से 5 लाख 20000 की भूटानी शराब बरामद की गई है.छापे की कार्रवाई जलपाईगुड़ी डिविजनल एक्साइज डिपार्टमेंट के एडिशनल कमिश्नर सुजीत दास के नेतृत्व में की गई थी.

पंजाबी पाड़ा में चलाए गए अभियान में उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने गिरफ्तार महिला से पूछताछ के बाद पता किया है कि भूटान में इसका एक होटल भी चलता था. जय गांव वाले गोदाम की जानकारी भी सुमन जैन से ही हुई थी. उसके बाद ही अलीपुरद्वार उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने छापे की कार्रवाई शुरू की थी. उत्पाद विभाग के अधिकारियों के अनुसार सुमन जैन का भूटान में जो होटल था, वह लॉकडाउन के दौरान बंद हो गया. इसके बाद उसके समक्ष बेरोजगारी और रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया.

सुमन जैन सिलीगुड़ी आ गई. यहां उसने नोट कमाने के लिए एक महिला गिरोह तैयार किया. सूत्रों ने बताया कि उसके गिरोह में कम से कम 300 महिलाएं थी, जो सिलीगुड़ी के विभिन्न क्षेत्रों में रहती हैं. उत्पाद विभाग के अधिकारियों के अनुसार इनमें से ज्यादातर महिलाएं सिलीगुड़ी के रसूखदार परिवार से आती हैं. इन महिलाओं के माध्यम से ही सुमन जैन का कारोबार चलता था. पिछले दिनों सिलीगुड़ी में शादी विवाह, पार्टी,उत्सव, रेव पार्टी और अन्य अवसरों पर बड़े-बड़े बैंक्वेट हाॅलों में भी परोसी जाने वाली भूटानी शराब सुमन जैन के विश्वसनीय लोग अथवा उनके संपर्क की महिलाएं अरेंज करती थी.

फिलहाल आरोपी सुमन जैन न्यायिक हिरासत में हैं. उत्पाद विभाग और पुलिस सुमन जैन के व्हाट्सएप को खंगाल कर इस धंधे में शामिल अन्य महिलाओं और उपभोक्ताओं के नाम पते पता लगा रही है. सूत्रों ने बताया कि उन्हें भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है. अगर आवश्यक हुआ तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status