April 14, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति सिलीगुड़ी

40 नंबर वार्ड में भाजपा विधायक को विरोध का सामना करना पड़ा !

सिलीगुड़ी: लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा हो चुकी है और राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधि व कार्यकर्ता इन पांच सालों में हुए कार्यों का लेखा-जोखा तैयार कर जनता से वोट की अपील कर रही हैं | हर राजनीतिक पार्टी के प्रतिनिधि पूरे दमखम के साथ अपने प्रतिनिधि को विजय बनाने के प्रयास में लगे हुए हैं | कल 40 नंबर वार्ड में कुछ ऐसी घटना घटी, जिससे सिलीगुड़ी की राजनीति गर्मा चुकी है | बता दे कि, एक दिन पहले सिलीगुड़ी के 40 नंबर वार्ड में अग्निकांड की घटना घटित हुई थी, उसी का जायजा लेने कल सांसद जयंत राय 40 नंबर वार्ड पहुंचे थे और उस दौरान स्थानीय लोगों ने उनका विरोध किया | सांसद जयंत राय को देख स्थानीय वासी तिलमिला गए, साथ ही आरोप लगाते हुए कहा कि, 5 सालों में कहां थे, जो अब यहां आ रहे है | विरोध के दौरान स्थानीय वासी काफी आक्रोशित भी दिखे | वही इस विरोध को लेकर सांसद जयंत राय ने संवाददाता के समक्ष सवाल करते हुए कहा, क्या आप लोगों को भी लगता है कि, मैं 5 सालों में यहां पहली बार आया हूं, यह तृणमूल द्वारा संचालित वार्ड है इसलिए मुझे विरोध का सामना करना पड़ रहा | इस घटना के प्रकाश में आते ही सिलीगुड़ी के भाजपा नेता व समर्थक उत्तेजित हो गए, उन्होंने कल रात सिलीगुड़ी इस्कॉन रोड में एक विरोध रैली का आयोजन किया | इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार और स्थानीय तृणमूल नेताओं के खिलाफ काफी नारे बाजी की, इस विरोध रैली में नगर निगम के विपक्ष के नेता अमित जैन व अन्य भाजपा नेता और समर्थक उपस्थित थे | नगर निगम के विपक्ष के नेता अमित जैन ने आक्रामक रवैया अपनाते हुए कहा, इस घटना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा , काउंसलर की उपस्थिति में एक सांसद के साथ जो बर्ताव किया गया है वो निंदनीय है | इस दौरान माहौल काफी तनाव पूर्वक बन गया था |
आज फिर 40 नंम्बर वार्ड के दुर्गा नगर इलाके में अग्निकांड पीड़ितों से मिलने पहुंची भाजपा की विधायक शिखा चटर्जी को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा। स्थानीय लोगों ने विधायक का घेराव कर विरोध भी दिखाया। इलाके के लोगों का आरोप है कि, स्थानीय वार्ड पार्षद उनके सुख-दुख में हर वक्त खड़े रहते हैं, भाजपा के लोग चुनाव के दौरान ही वहां पहुंचते है | लोकसभा के चुनाव को लेकर ही भाजपा के विधायकों को इलाके में देखा जा रहा है।
इन आरोपों को खारिज करते हुए विधायक शिखा चटर्जी ने कहा कि, वह वहां की जनप्रतिनिधि है उनका अधिकार है लोगों के सुख-दुख में साथ रहना, बाहरी व्यक्ति मुझे बाहर का रास्ता दिखा रहे है | साथ ही पुनर्वासन को लेकर उन्होंने कहा कि, सरकार के मदद के बिना वे कुछ नहीं कर सकती, इस बारे में ब्लॉक अधिकारी तथा जिला अधिकारी को सूचना दे दी गई है। लेकिन विधायक शिखा चटर्जी के सांतवना के बाद भी लोग शांत नहीं हुए, उन्होंने विधायक को घेर कर नारेबाजी की, साथ ही भाजपा पर कई तरह के आरोप भी लगाए | देखा जाए तो जैसे- जैसे लोकसभा के चुनाव के दिन नजदीक आ रहे है, राजनीतिक सर गर्मी बढ़ती जा रही है और इस तरह के माहौल से आम जनता पर किस तरह का प्रभाव पड़ेगा यह तो समय ही निर्धारित करेगा |

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status