April 16, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

ममता बनर्जी राम मंदिर उद्घाटन कार्यक्रम में नहीं जाएंगी!

उत्तर बंगाल के दौरे पर आई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उत्तर 24 परगना जिले के चकला में बाबा लोकनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करने के क्रम में धर्म और राजनीति के संदर्भ में बात करते हुए यह संकेत दिया है कि उनकी पार्टी चुनाव में लाभ लेने के लिए धर्म की राजनीति नहीं करती. इसका मतलब साफ है कि ममता बनर्जी अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर उद्घाटन समारोह में भाग नहीं लेंगी.

इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने भी अपने एक बयान में यह स्पष्ट कर दिया था कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अथवा उनकी पार्टी का कोई भी नेता 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के उद्घाटन में भाग नहीं लेंगे. ममता बनर्जी को अयोध्या कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विश्व हिंदू परिषद की ओर से निमंत्रण पत्र भेजा जाने वाला है.

कुणाल घोष ने उसी समय अपनी पार्टी का स्टैंड भी साफ कर दिया था. उन्होंने कहा था कि भगवान राम सभी के दिल में है.मुख्यमंत्री ममता बनर्जी स्वयं भगवान राम की श्रद्धा से पूजा करती है. लेकिन एक राजनीतिक दल के रूप में तृणमूल कांग्रेस अपने राजनीतिक एजेंडा को पूरा करने के लिए भगवान राम के बारे में लोगों की भावनाओं का फायदा उठाने की भाजपा की रणनीति का समर्थन नहीं करती है.

कुछ समय पहले तृणमूल कांग्रेस में इस बात को लेकर सुगबुगाहट शुरू हो गई थी कि ममता बनर्जी को विश्व हिंदू परिषद का निमंत्रण पत्र स्वीकार करना चाहिए या नहीं. सूत्र बताते हैं कि पार्टी के कई वरिष्ठ नेता इसके खिलाफ थे, तो कुछ नेता चाहते थे कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी स्वयं अयोध्या ना जाकर अपने किसी प्रतिनिधि नेता को अयोध्या भेजें. इससे पार्टी को चुनाव में लाभ हो सकता है. कई नेताओं ने यह फैसला खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर ही छोड़ दिया था.

हालांकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ओर से अयोध्या जाने के कार्यक्रम को लेकर कोई स्पष्ट बात या आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है, परंतु आज उन्होंने जो संकेत दिया है, इससे यही लगता है कि उनकी पार्टी अपनी पुरानी विचारधारा के साथ ही आगे बढ़ेगी यानी सभी धर्मो का सम्मान, लेकिन राजनीति में धर्म का सहारा नहीं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव के दौरान धर्मो का राजनीतिकरण बंद करने की बात कहते हुए अपनी स्पष्ट विचारधारा को सामने रखा और कहा कि हमें सभी धर्म का सम्मान करना चाहिए. सभी धर्म हमें अधिक दयालू होना और प्रेम तथा भाईचारा फैलाना सिखाते हैं. हम केवल चुनाव आने पर या राजनीति करने के लिए धर्म का सम्मान करने में विश्वास नहीं करते हैं.

मुख्यमंत्री आज उत्तर 24 परगना के दौरे पर हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status