April 16, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल दार्जिलिंग राजनीति सिलीगुड़ी

पश्चिम बंगाल लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा स्टार प्रचारकों की सूची में राजू बिष्ट का नाम शामिल नहीं!

भाजपा स्टार प्रचारकों की सूची में राजू बिष्ट का नाम शामिल नहीं किए जाने से कई लोगों को खासकर राजू बिष्ट के समर्थकों को आश्चर्य हो रहा है. क्योंकि राजू बिष्ट केंद्रीय भाजपा नेताओं के काफी करीब रहे हैं. उनकी योग्यता और सक्षमता को देखते हुए अखिल भारतीय भाजपा ने उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता भी बनाया है. ऐसे में स्टार प्रचारक की सूची में राजू बिष्ट का नाम शामिल नहीं किए जाने से सिलीगुड़ी से लेकर पहाड़ और डुआर्स तक राजनीतिक गलियारों में उनके समर्थकों में आश्चर्य भरी खामोशी व्याप्त है. राजू बिष्ट के समर्थक एक दूसरे से सवाल कर रहे हैं, कहीं भाजपा से चूक तो नहीं हो गई?…

पश्चिम बंगाल लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण में तीन सीटों के लिए चुनाव हो रहे हैं. 19 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए जलपाईगुड़ी सीट से भाजपा और तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवारों ने अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल कर दिए हैं. इसके बाद बाकायदा दलों की ओर से चुनाव प्रचार का कार्यक्रम शुरू हो जाएगा. तृणमूल कांग्रेस और भाजपा ने अपने 40-40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी कर दी है.

भाजपा की ओर से जारी स्टार प्रचारकों की सूची में दार्जिलिंग लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार राजू बिष्ट का नाम शामिल नहीं है, जबकि दिलीप घोष को स्टार कैंपेनर बनाया गया है. इसको लेकर दबी जुबान चर्चा भी शुरू हो गई है. एक तरफ राजू बिष्ट के कुछ समर्थक इस पर अभी मौन हैं तो दूसरी तरफ कुछ समर्थक यह भी कहते सुने गए कि राजू बिष्ट तो अखिल भारतीय भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं, उन्हें तो स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल किया जाना चाहिए था. आखिर पार्टी ने ऐसा क्यों किया, यह समझ से परे की बात है.

उत्तर बंगाल से स्टार प्रचारकों की सूची में निशित प्रमाणिक का नाम प्रमुखता से शामिल किया गया है. लेकिन वहीं दार्जिलिंग संसदीय सीट के प्रत्याशी राजू बिष्ट को स्टार कैंपेनर नहीं बनाया गया है. इस पर विरोधी भी चुटकी ले रहे हैं. इसके जरिए विरोधी राजू बिष्ट के मनोबल को गिराने की या कम करने की रणनीति बना रहे हैं. राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि कहीं ना कहीं वे यह साबित करना चाहते हैं कि भाजपा को राजू बिष्ट में भरोसा नहीं है अथवा विरोधी पक्ष की ऐसी रणनीति चुनाव प्रचार के लिए हो सकती है. भाजपा के स्टार प्रचारकों की सूची में दिलीप घोष का नाम शामिल है.

दिलीप घोष वर्धमान-दुर्गापुर से भाजपा के उम्मीदवार हैं. दिलीप घोष का मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर दिया गया विवादास्पद बयान सुर्खियों में है. इस पर भाजपा की ओर से भी ऐतराज जताया गया है. भाजपा और चुनाव आयोग ने उन्हें कारण बताओ नोटिस भेज कर स्पष्टीकरण मांगा है. चुनाव आयोग ने उन्हें शुक्रवार तक जवाब दाखिल करने को कहा है. हालांकि सूत्रों ने बताया कि चौतरफा दबाव पड़ने के बाद इस बीच दिलीप घोष अपने बयान पर खेद जता रहे हैं. इस स्थिति में भाजपा का अगला कदम क्या होगा, यह तो भविष्य के गर्भ में है. लेकिन इस बीच पश्चिम बंगाल के लिए स्टार प्रचारकों की सूची में दिलीप घोष के नाम को शामिल करने से विरोधी पक्ष को चुटकी लेने का मौका मिल गया है.

भाजपा विरोधियों से निपटने के लिए क्या करेगी, क्या दिलीप घोष का नाम सूची से हटाया जाएगा या फिर दिलीप घोष के द्वारा माफी मांगे जाने के बाद मामला रफा दफा हो जाएगा? दिलीप घोष ने कहा है कि वह आधिकारिक रूप से पार्टी को अपना जवाब भेजने वाले हैं. जानकार मानते हैं कि भाजपा दिलीप घोष को आखिरी बार चेतावनी दे सकती है. लेकिन क्या उन्हें स्टार कैंपेनर भी बना सकती है, इस पर भाजपा शायद दोबारा विचार कर सकती है.

बहरहाल भाजपा के स्टार प्रचारकों की सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम सबसे ऊपर है. अन्य नाम इस प्रकार हैं जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, अमित शाह, योगी आदित्यनाथ ,हेमंत विश्व शर्मा ,मानिक शाह, अर्जुन मुंडा, सुनील बंसल, मंगल पांडे ,अमित मालवीय, निशित प्रमाणिक ,सतपाल महाराज, स्मृति ईरानी मुख्तार अब्बास नकवी, सुकांत मजूमदार ,शिवेंद्र अधिकारी ,शांतनु ठाकुर, स्वप्न दास गुप्ता, दिलीप घोष ,राहुल सिंह मिथुन चक्रवर्ती, देवश्री चौधरी, शमिक भट्टाचार्य, नागेंद्र राय, दीपक बर्मन, जगन्नाथ चट्टोपाध्याय, मासूजा खातून, सुशील बर्मन ,सुकुमार रॉय, निखिल रंजन दे ,मिहिर गोस्वामी, मालती राय, शंकर घोष ,जोएल मुर्मू ,गोपाल चंद्र शाह, सिद्धार्थ तिर्की, रुद्रनिल घोष, अमिताभ चक्रवर्ती और सतीश धुंध के नाम शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status