July 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी के विधायक शंकर घोष का हुआ ‘प्रमोशन’!

सिलीगुड़ी के भाजपा विधायक शंकर घोष की पार्टी में सुंदर छवि बनी हुई है. उन्हें भाजपा का एक समर्पित कार्यकर्ता माना जाता है. अपनी जिम्मेदारियां को पूरा करना जानते हैं. सिलीगुड़ी नगर निगम के चुनाव से लेकर विधानसभा और लोकसभा के चुनाव तक शंकर घोष ने स्वच्छ राजनीति के बलबूते पर पार्टी में अच्छी जगह बनाई है. उनके बारे में यह भी कहा जाता है कि वह पार्टी के अंदरूनी झगड़ों को सार्वजनिक नहीं करते और पार्टी हित में सटीक फैसला लेते हैं.

शंकर घोष में एक साथ कई खूबियां हैं. प्रदेश में भाजपा की स्थिति पहले से खराब हुई है. लोकसभा चुनाव के बाद एक तरफ जहां भाजपा के जीते कुछ सांसद इधर-उधर होने की तैयारी कर रहे हैं, विधायक भी पाला बदल सकते हैं. पार्टी के कार्यकर्ता लगभग रोज ही तृणमूल कांग्रेस में जा रहे हैं. ऐसे समय में शंकर घोष अपनी पार्टी में पूरा भरोसा रखते हुए पार्टी की नीतियों और सिद्धांतों के अनुसार आचरण कर रहे हैं. यही कारण है कि प्रदेश भाजपा ने उनकी स्वच्छ छवि और ईमानदारी का पुरस्कार दिया है.

शंकर घोष को राज्य विधानसभा में भाजपा परिषदीय दल के मुख्य सचेतक के रूप में मनोनीत किया गया है. विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी की मौजूदगी में भाजपा विधायक दल की बैठक में चीफ व्हिप के लिए शंकर घोष के नाम पर सहमति बनी. अब इस प्रस्ताव को भाजपा की केंद्रीय कमेटी को अनुमोदन के लिए भेज दिया गया है. जैसे ही इसका अनुमोदन होगा, मुख्य सचेतक के रूप में शंकर घोष के नाम की आधिकारिक घोषणा हो जाएगी. मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को केंद्रीय कमेटी राज्य विधानसभा में चीफ व्हिप के नाम की आधिकारिक घोषणा कर सकती है.

आपको बताते चलें कि राज्य विधानसभा में अलीपुरद्वार के नवनिर्वाचित सांसद मनोज टिगा को यह स्थान प्राप्त था. मनोज टिगा मदारीहाट से भाजपा विधायक थे. लेकिन लोकसभा चुनाव में पार्टी ने उन्हें अलीपुरद्वार से टिकट दिया था. मनोज टिगा ने अलीपुरद्वार संसदीय सीट जीत ली. उसके बाद राज्य विधानसभा में विधायक का पद छोड़ दिया. इसके साथ ही राज्य विधानसभा में मुख्य सचेतक के पद से भी इस्तीफा दे दिया

पिछले कई दिनों से यह पद खाली था. राज्य विधानसभा में भाजपा के चीफ व्हिप को लेकर चर्चा तेज हो गई थी. भाजपा के प्रदेश नेतृत्व ने इस पद के लिए सुयोग्य उम्मीदवार की तलाश शुरू कर दी थी. कई बैठकों के बाद अंततः इस नतीजे पर पहुंच गया कि शंकर घोष इस पद के सुयोग्य उम्मीदवार हो सकते हैं. अब इस पद पर शंकर घोष को मनोनीत कर दिया गया है. सोमवार तक इसकी आधिकारिक घोषणा होने की उम्मीद की जा रही है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *