May 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
मौसम

सिक्किम में होगी झमाझम बारिश!

सिक्किम में मौसम, प्रकृति, विन्यास ,जलवायु ,आबोहवा, परिवेश सब कुछ अद्वितीय है. भारत में यह प्रदेश ऑर्गेनिक खेती के लिए भी विश्व प्रसिद्ध है. अब यह प्रदेश जल्द ही नया आयाम से गुजरने जा रहा है. सिक्किम अब हवाई मार्ग के बाद रेलवे कनेक्टिविटी से भी जुड़ने जा रहा है. काम युद्ध स्तर पर चल रहा है. कुल 45 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन में 14 सुरंगे, 17 से अधिक पुल और तीस्ता बाजार में एक भूमिगत स्टेशन के साथ ही कुल पांच स्टेशन बन रहे हैं या बन चुके हैं. पिछले 8 मई को रेलवे के द्वारा 3948 मीटर लंबी टी 4 सुरंग निर्माण में भी सफलता मिल चुकी है.

दूसरी तरफ सिक्किम में मौसम में भी बदलाव जारी है. हालांकि पिछले कुछ दिनों से मौसम में स्थिरता बनी हुई है. पर लोगों को लगता है कि कब मौसम किस करवट ले, किसी को पता नहीं है. स्थानीय लोगों के अनुसार सिक्किम में बरसात शुरू हो चुकी है. हालांकि मौसम वैज्ञानिक इस बात से सहमत नहीं है.

इन दिनों सिक्किम में सुबह धूप हो जाती है. लेकिन दोपहर तथा शाम को बरसात हो जाती है. पिछले कुछ दिनों से सिक्किम के मौसम में इस तरह के उतार-चढ़ाव नजर आ रहे हैं. लोग कयास लगा रहे हैं कि सिक्किम में मानसून ने दस्तक दे दी है. हालांकि इसमें कोई सच्चाई नहीं है. यह मानसून से पहले की प्री मानसून वर्षा है, जो कुछ दिनों तक ऐसे ही चलती रहेगी.

यह इस बात का भी संकेत है कि अगले मानसून में सिक्किम का मौसम सामान्य से अधिक बरसात भरा हो सकता है. लेकिन यह जलवायु परिवर्तन का प्रभाव नहीं है. गंगटोक बलुआ खानी स्थित भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी डॉक्टर G N राहा ने लोगों के कयास और धारणाओं का खंडन करते हुए कहा कि सिक्किम में ना तो मानसून की बारिश हो रही है और ना ही जलवायु परिवर्तन के कारण यहां बरसात हो रही है.

उन्होंने कहा है कि अगले कुछ दिनों तक सिक्किम का मौसम ऐसा ही बना रहेगा. सिक्किम में झमाझम बारिश के आसार नजर आ रहे हैं. यह प्री मानसून बारिश है और यह एक सामान्य प्रक्रिया के तहत हो रही है. डॉक्टर राहा ने कहा कि कुछ समय पहले तक सिक्किम में सूखा मौसम चल रहा था. इससे वायुमंडल में नमी का अभाव था. जब पश्चिमी उत्तर प्रदेश से उत्तर बंगाल और पश्चिम नेपाल तक निम्न वायु दबाव चल रहा था, उसके साथ ही नमी आ गई और यह बारिश हो रही है.

डॉक्टर राहा ने कहा कि सिक्किम के लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं है. अगले कुछ दिनों तक यही स्थिति बनी रहेगी. भारतीय मौसम वैज्ञानिक डॉक्टर राहा के अनुसार सिक्किम में इस बार सामान्य मानसून बना रहेगा. इसलिए लोगों को डरने की जरूरत नहीं है. मौसम विज्ञान केंद्र गंगटोक द्वारा जारी मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार आज गंगटोक में अधिकतम तापमान 23 डिग्री और न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहां बारिश होने की भी संभावना है.

गंगटोक के ऊपरी भाग छांगू झील में अधिकतम तापमान 10 डिग्री और न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस, जबकि अंतर्राष्ट्रीय सीमा क्षेत्र नाथुला में अधिकतम तापमान 6 डिग्री और न्यूनतम तापमान – 1 डिग्री सेल्सियस रहा है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *