February 5, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

इंटरनेशनल स्टेशन बनने जा रहा एनजेपी स्टेशन!

उत्तर बंगाल का सबसे मशहूर रेल स्टेशन है न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन, जिसका ऐतिहासिक महत्व भी है. सिलीगुड़ी को पूर्वोत्तर का प्रवेश द्वार कहा जाता है. इस हिसाब से भी सिलीगुड़ी के सबसे प्रमुख स्टेशन एनजेपी का महत्व स्वयंसिद्ध है. यूं तो न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन बांग्लादेश से रेल संपर्क व्यवस्था के चलते इंटरनेशनल स्टेशन बन चुका है, परंतु एनजेपी स्टेशन पर इंटरनेशनल रेलवे स्टेशन की जो व्यवस्था होनी चाहिए, वह अभी तक नहीं है.

आज एनजेपी स्टेशन के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ गया है. काफी दिनों से एनजेपी स्टेशन को आधुनिक और भारत के सबसे विकसित स्टेशनों की सूची में शामिल करने की कवायद चल रही थी. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनजेपी स्टेशन के अत्याधुनिक विकास की आधारशिला रख कर सिलीगुड़ी और उत्तर बंगाल के लोगों के जीवन में खुशियां भर दी.

इस मौके पर शिलान्यास कार्यक्रम में उपस्थित दार्जिलिंग के भाजपा सांसद राजू बिष्ट ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 30 महीने में ही एनजेपी स्टेशन इंटरनेशनल रेल स्टेशन की श्रेणी में होगा. इसी एनजेपी रेलवे स्टेशन के बारे में आज सुबह सिलीगुड़ी नगर निगम की बोर्ड मीटिंग में सिलीगुड़ी नगर निगम के मेयर गौतम देव ने इसकी उपेक्षा का केंद्र पर आरोप लगाया था.

न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन को आधुनिक तथा सभी सुविधाओं से युक्त स्टेशन बनाने के मद में 350 करोड़ की लागत आएगी. जिस तरह से आप एयरपोर्ट पर यात्रियों के लिए सुविधाएं देखते हैं, उस तरह की सभी सुविधाएं एनजेपी स्टेशन पर भी रेल यात्रियों को मिलेगी.

रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस वर्ल्ड क्लास स्टेशन के लिए जिस तरह की योजना बनाई गई है, उसमें दिव्यांग समेत सभी वर्ग के लोगों को सुविधाएं मिलेंगी. इसके अलावा जिस तरह से एयरपोर्ट पर पृथक अराइवल और डिपार्चर होता है, ठीक उसी तरह की यहां भी सुविधा होगी.

यहां एक ग्रीन बिल्डिंग भी बनाया जाएगा, जो सोलर ऊर्जा से संचालित होगी. लिफ्ट, स्वचालित सीढ़ियां, यात्रियों के बैठने का कक्ष, ड्रेसिंग रूम, फीडिंग रूम, आदि वे सारी सुविधाएं यहां पर तैयार की जा रही हैं, जिससे कि अगले 45 बरसों की रेल यात्रियों की सभी आवश्यकताओं की पूर्ति हो सके.

यहां पर दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे टर्मिनल को भी विकसित किया जा रहा है. जो एनजेपी स्टेशन को अद्वितीय बनाता है. दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे का बन रहा टर्मिनल पर्यटन के क्षेत्र में एक नई क्रांति लाएगा. इन सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को ध्यान में रखकर अगले 30 महीने में एनजेपी स्टेशन का लुक ठीक एक इंटरनेशनल स्टेशन की भांति ही होगा. तो इंतजार करिए उस महान घड़ी का जब सिलीगुड़ी और उत्तर बंगाल के लोगों का सपना मूर्त रूप नजर आएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *