February 5, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

इस रविवार सिलीगुड़ी के पार्कों और बंगाल सफारी में उमड़ेगी भीड़!

25 दिसंबर को बड़ा दिन है. बड़ा दिन का मतलब क्रिसमस. खरमास के महीने में यह पहला त्यौहार है, जिसे मनाने के लिए सिलीगुड़ी वासी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

सिलीगुड़ी में क्रिसमस पर लोगों की कैसी भीड़ होगी, इसकी झलक रविवार को ही बंगाल सफारी में देखने को मिल गई. बंगाल सफारी में घूमने के लिए सिलीगुड़ी और आसपास के इलाकों से भारी संख्या में पर्यटक पहुंचे थे. सिलीगुड़ी में क्रिसमस और नए साल का जश्न मनाने के लिए प्रशासन की ओर से भी पार्कों, प्रतिष्ठान, सड़कों की साज-सज्जा का काम शुरू किया जा रहा है. इसके अलावा क्रिसमस संस्थानों की ओर से भी गिरिजा घरों की साफ-सफाई और रोशनी की तमाम व्यवस्थाएं की जा रही है.

यूं तो क्रिसमस की छाप सिलीगुड़ी के लगभग सभी पार्कों में देखी जा सकेगी. परंतु सिलीगुड़ी के मुख्य दो स्थल सूर्यसेन पार्क और बंगाल सफारी सिलीगुड़ी तथा आसपास के लोगों के लिए काफी प्रसिद्ध पर्यटक स्थल हैं. जहां हर रविवार को लोगों का मेला सा लग जाता है. सूर्य सेन पार्क के अलावा सिलीगुड़ी के आसपास अनेक ऐसे पार्क हैं जहां त्योहारों के मौके पर लोग पिकनिक मनाने के लिए दूर-दूर से आते हैं.

आने वाला रविवार तो बेहद खास है. रविवार को क्रिसमस है. ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि उस दिन सिलीगुड़ी के सूर्य सेन पार्क समेत विभिन्न स्थानों में हजारों की भीड़ हो सकती है. जहां तक बंगाल सफारी की बात है तो यहां तो वैसे भी आम दिनों में भीड़भाड रहती ही है. रविवार तो खास आकर्षण है. रविवार को बंगाल सफारी में तुलनात्मक रूप से अधिक पर्यटक घूमने के लिए आए. इसको देखते हुए बंगाल सफारी प्रशासन की ओर से क्रिसमस और नए साल की अभी से ही तैयारी शुरू हो गई है.

अगर आप सिलीगुड़ी के नजदीक बंगाल सफारी में क्रिसमस एंजॉय करना चाहते हैं तो मात्र कुछ रुपए खर्च करके ही आप यहां पहुंच सकते हैं और क्रिसमस मना सकते हैं. सेवक मोड़ से बंगाल सफारी जाने के लिए सभी तरह के साधन उपलब्ध हैं. इसके अलावा आप अपने निजी वाहन से भी जा सकते हैं. आपको बता दूं कि बंगाल सफारी में प्रवेश के लिए प्रति व्यक्ति ₹30 का टिकट रखा गया है. उपरोक्त के अलावा वन्यजीव सफारी को देखने के लिए अलग से टिकट लगता है.

पर्यटन व्यवसायियों को लगता है कि क्रिसमस से ही बंगाल सफारी में नए साल तक रोज ही भीड़भाड बढ़ती जाएगी. काफी समय से बंगाल सफारी तथा दूसरे पर्यटक स्थल में भीड़ भाड़ नहीं देखी गई थी. कोरोना काल में पर्यटन व्यवसायियों को भारी नुकसान हुआ था. लेकिन उन्हें लगता है कि अब वह समय आ गया है जब पर्यटन के क्षेत्र में उन्हें भरपाई होने लगेगी. सिलीगुड़ी नगर निगम और स्थानीय प्रशासन की ओर से मेरी क्रिसमस के लिए खास प्रबंध किए गए हैं. सिलीगुड़ी की विभिन्न सड़कों से लेकर पार्कों तक को रोशन किया जा रहा है. स्थानीय एयर व्यू मोड स्थित महानंदा पार्क को सजाया संवारा जा रहा है. इसके अलावा सिलीगुड़ी में जितने भी पार्क हैं उन सभी को अभिनव रूप दिया जा रहा है. सिलीगुड़ी के सभी प्रमुख मार्गों पर रोशनी की व्यवस्था की जा रही है. वाकई सिलीगुड़ी में मेरी क्रिसमस का आकर्षण देखने को मिल सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *