February 5, 2023
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिलीगुड़ी में बढ़ रही आपराधिक वारदातें!

सिलीगुड़ी में चोरी-डकैती आदि घटनाएं तो होती ही रहती हैं. पर विगत कुछ दिनों में जिस तरह से यहां खूनी घटनाएं और देह व्यापार के मामलों में इजाफा हुआ है, वह सिलीगुड़ी प्रशासन के साथ-साथ सिलीगुड़ी की पहचान के लिए भी चिंता का विषय बन गया है.

एनजेपी थाना के अंतर्गत साउथ कॉलोनी अंबेडकरनगर की घटना की आग अभी बुझी भी नहीं है कि इसी बीच एक पर एक कई आपराधिक घटनाओं ने सिलीगुड़ी को हिला कर रख दिया है. इसके साथ ही सिलीगुड़ी पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर भी सवाल उठने लगे हैं. हालांकि एक दो मामले को छोड़कर सिलीगुड़ी मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने सभी मामलों में समय पर कार्रवाई करते हुए अपराधियों को दबोचा है. अंबेडकर नगर की घटना में पुलिस ने आरोपी विकास पोजियार को गिरफ्तार करके उसे रिमांड पर ले रखा है, पर उसके बाद जिस तरह से अपराधिक घटनाओं का सिलसिला शुरू हो गया, वह प्रशासन के लिए एक चुनौती भी बन गया है.

आशीघर की घटना कुछ ही दिनों पहले की है. सुकना के जंगल में शराब पीने और पैसे मांगने के क्रम में एक दोस्त ने दूसरे दोस्त को मौत के घाट उतार दिया. बागडोगरा में एक दुकान में काम करने वाले कर्मचारी की उसके मालिक द्वारा हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गई क्योंकि कर्मचारी ने मालिक की भावनाओं का ख्याल नहीं रखा था. हाल ही में एक स्कूल की 12 वर्षीया छात्रा के अपहरण तथा उसकी हत्या की घटना अभी सुर्खियों में ही है. आरोपी अब तक पकड़ा नहीं जा सका है. आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर विद्यालय के शिक्षक और अभिभावक लगातार हंगामा कर रहे हैं.

सिलीगुड़ी में रविवार से लेकर सोमवार तक 24 घंटे में 2 से लेकर 4 सनसनीखेज आपराधिक वारदातें हुई हैं. इनमें से कॉल सेंटर के दो मामले और दो अन्य खूनी मामले जुड़े हुए हैं. सिलीगुड़ी नगर निगम के वार्ड नंबर 42 के भूपेंद्र नगर में एक युवक की हत्या कर दी गई. युवक कार चालक था.युवक की हत्या के आरोप में भक्ति नगर पुलिस ने 3 लोगों अंकित शर्मा, रोहित शर्मा तथा प्रभात शर्मा को हिरासत में लिया है. प्रारंभिक दृष्टिकोण में यह प्रेम प्रसंग का मामला है.

सोमवार की घटना में अपराधी को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर ही अपराधी द्वारा गोली चलाने का आरोप है. यह घटना डागापुर माटीगाड़ा से जुड़ी है.प्रधान नगर थाना की टीम वांछित व्यक्ति को गिरफ्तार करने डागापुर गई थी. इसी क्रम में वांछित अपराधी ने आईसी को लक्ष्य करके गोली चला दी. मगर इत्तेफाक से गोली एक सब इंस्पेक्टर के पैर में लगी. रविंद्र नाथ सरकार नामक उक्त सब इंस्पेक्टर का एक निजी नर्सिंग होम में इलाज चल रहा है.

एक तरफ तो सिलीगुड़ी में खूनी वारदातों ने सिलीगुड़ी को हिला कर रख दिया है तो दूसरी ओर यहां विभिन्न मॉल और शॉपिंग सेंटर और अपार्टमेंट में देह व्यापार के आए दिन के मामलों में भी तेजी देखी जा रही है. सेवक रोड पर स्थित विभिन्न मॉल और शॉपिंग सेंटर में पहले ही पुलिस ने कॉल सेंटर के कई मामलों का पटाक्षेप किया है तो हाल ही में सिलीगुड़ी मेट्रोपॉलिटन पुलिस के विभिन्न स्थानों की पुलिस ने रेड डालकर फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश करते हुए देह व्यापार के कारनामों का पता लगाया. सिलीगुड़ी के 39 नंबर वार्ड में स्थित एक अपार्टमेंट में देह व्यापार का आरोप लगाकर स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है. इसके अलावा सरकारी संस्थान में फर्जी कॉल सेंटर के मामले सुर्खियों में ही है.

सवाल यह है कि 1 हफ्ते में सिलीगुड़ी में कम से कम 8 से 10 आपराधिक वारदातें सामने आई है. सिलीगुड़ी मेट्रोपॉलिटन की पुलिस ऐसे सभी मामलों में पूरी कार्रवाई कर रही है. पर सवाल तो यह है कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए पुलिस के पास क्या उपाय है. सूत्रों ने बताया कि सिलीगुड़ी पुलिस कमिश्नर, अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर, एसपी, विभिन्न थानों के आईसी आदि अधिकारी सिलीगुड़ी में बढ़ती अपराधिक वारदातों पर नियंत्रण पाने की फुलप्रूफ योजना बना रहे हैं. लेकिन पुलिस की यह योजना क्या होगी, यह कोई नहीं जानता. बहरहाल अब समय आ गया है कि सिलीगुड़ी प्रशासन, सिलीगुड़ी नगर निगम और सिलीगुड़ी मेट्रोपॉलिटन पुलिस मिलकर सिलीगुड़ी शहर को सुंदर, स्वच्छ और शांत बनाए रखने के लिए काम करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *