April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल जलपाईगुड़ी जुर्म सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी में 24 घंटे में नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म की 2 बड़ी घटनाएं!

आज सिलीगुड़ी और जलपाईगुड़ी कोर्ट में पुलिस ने नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म के दो आरोपियों को पेश किया. इसके अलावा एक अन्य आरोपी को भी पेश किया गया. उनके नाम बलई साहा और सुजीत दास हैं. एक आरोपी 57 साल का है तो दूसरा आरोपी 33 साल का है. आरोपी पक्ष के वकीलों ने अपने मुवक्किल की जमानत का जमानत नामा पेश किया. लेकिन मजिस्ट्रेट ने उनकी जमानत की अर्जी ठुकराते हुए उन्हें पुलिस रिमांड में भेज दिया…

सिलीगुड़ी समेत पूरे उत्तर बंगाल में नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म, उन्हें गायब करने या फिर अगवा करने की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं. पिछले 24 घंटे में सिलीगुड़ी के विभिन्न इलाकों से दो मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की दो बड़ी घटनाएं सामने आई है. दोनों ही मामलों में पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर दिया है. पहला मामला वार्ड नंबर 8 के खालपाड़ा इलाके का है. यहां एक घर में उस समय मासूम बच्ची अकेली थी. उसकी मां किराने की दुकान पर कोई सामान लेने गई थी.

उसी समय पड़ोस में ही रहने वाला अधेर उम्र का बलई साहा घर में घुस आया. उसने इधर-उधर देखा और फिर मासूम बच्ची के पास चला गया. उसने पहले तो बच्ची की मां के बारे में पूछा. जब बच्ची ने बताया कि उसकी मां सामान लेने के लिए दुकान पर गई है. तब वह बच्ची के साथ बहकी बहकी बातें करने लगा. बातें करते-करते वह उसके काफी करीब आ गया और उसके बदन पर अश्लील तरीके से हाथ फेरने लगा. कुछ देर में मासूम बच्ची की मां घर लौटी तो बलई साहा वहां से जाने लगा. उस समय उसकी नन्ही बच्ची रो रही थी. मां ने बेटी से पूछा तो उसने बताया कि बलई साहा उसके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश कर रहा था.

मां ने शोर मचाकर पड़ोसियों को बुला लिया. लोग अपने-अपने घरों से निकल कर पहुंचे तो बच्ची की मां जानकी देवी ने सारी बात बता दी. इसके बाद उत्तेजित लोग बलई साहा पर हमलावर हो उठे. इस बीच हंगामा बढ़ते देखकर किसी ने खालपारा पुलिस चौकी को फोन कर दिया. तत्काल ही पुलिस मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने बलई साहा को गिरफ्तार कर लिया. आज कोर्ट में पेश करने पर अदालत ने बलई साहा की जमानत ना मंजूर कर दी.

एक दूसरी घटना सिलीगुड़ी के निकट साउथ कॉलोनी की है. यहीं के रहने वाले सुजीत दास पर आरोप है कि उसने एक स्कूली छात्रा का हाथ पकड़ कर जबरदस्ती करने की कोशिश की. बताया जाता है कि स्कूली छात्रा स्कूल से लौटकर घर आ रही थी. रास्ते में आसपास में किसी को न देखकर सुजीत दास ने लड़की को रोका और बहाने से उसके निकट जाने की कोशिश करने लगा. सुजीत दास के भाव और अंदाज देखकर छात्रा घबरा गई. उसने शोर मचा दिया. बताया जाता है कि सुजीत दास ने लड़की की आवाज दबाने की कोशिश की. बाद में लड़की ने अपने घर वालों को यह बात बताई तो उसके घर वालों ने थाने में सुजीत दास के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. पुलिस ने सुजीत दास को गिरफ्तार कर लिया और आज अदालत में पेश करने पर अदालत ने उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी और पुलिस रिमांड में भेज दिया.

सिलीगुड़ी कोर्ट में आज ही पुलिस ने एक अन्य आरोपी कौशिक दोरजी उर्फ कृष को पेश किया. आरोपी पक्ष की ओर से उसके वकील ने कोर्ट में जमानत नामा पेश किया. लेकिन मजिस्ट्रेट ने उसकी जमानत याचिका ना मंजूर करके आरोपी को पुलिस रिमांड में दे दिया. हालांकि यह मामला कुछ अलग है और प्रेम संबंधों से जुड़ा हुआ है.

कौशिक दोर्जी खालपारा में अपने मामा के घर रहता था. वह मूल रूप से फांसी देवा के लीचूपाकड़ी का रहने वाला था. खालपारा की ही एक 14 साल की लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसा कर भगा ले गया था. 6 जनवरी को लड़की के परिजनों द्वारा खालपारा पुलिस चौकी में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. पुलिस ने कल शाम को दरजी को गिरफ्तार कर लिया. वह फरार चल रहा था. आज उसे अदालत में पेश करके पुलिस ने रिमांड में ले लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status