April 14, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल जुर्म सिलीगुड़ी

माटीगाड़ा का बहुचर्चित छात्रा हत्याकांडः मोहम्मद अब्बास का बचना नामुमकिन!

‘मैं निर्दोष हूं… मैंने आज तक अपने जीवन में एक चींटी तक नहीं मारी तो लड़की को क्या मारूंगा… मेरे खिलाफ साजिश रची गई है. मुझे टॉर्चर दिया जा रहा है… जब मैंने कोई अपराध ही नहीं किया तो किस बात की सजा? क्योंकि मैं एक मुस्लिम हूं… इसलिए प्रताड़ना का शिकार हो रहा हूं. मेरा नाम मोहम्मद अब्बास है और यही मेरा दुर्भाग्य है… कहते-कहते मोहम्मद अब्बास रो पड़ा.

आज पुलिस ने माटीगाड़ा की रहने वाली छात्रा की हत्या के आरोपी मोहम्मद अब्बास को सिलीगुड़ी कोर्ट में पेश किया तो मीडिया के सवालों के जवाब में उसने यह बात कही. काफी दिनों से मोहम्मद अब्बास कुछ कहना चाहता था. आज मौका था. इसलिए उसने अपने दिल की बात बता तो दी, पर इसके साथ ही एक समुदाय विशेष से सहानुभूति हासिल करने की भी चाल चल दी. मोहम्मद अब्बास की भाव भंगिमा, उसके अंदाज, बॉडी लैंग्वेज इत्यादि चीख चीख कर कह रहे हैं कि वह बुरी तरह घिर चुका है और अब उसका बचना मुश्किल है. इसीलिए उसने आज मीडिया के सामने एक सिंपैथी कार्ड खेला है.

अब तक अदालत में 14 गवाहों के बयान दर्ज किये जा चुके हैं. पिछले कई दिनों से माटीगाड़ा के बहुचर्चित छात्रा हत्याकांड की सुनवाई सिलीगुड़ी कोर्ट में चल रही है. इस मामले में हत्या के मुलजिम मोहम्मद अब्बास को लगभग रोज ही सिलीगुड़ी कोर्ट लाया जाता है.बुधवार को इस मामले से जुड़े एक महत्वपूर्ण बिंदु पर गवाही होनी थी. लेकिन जज साहिबा के चोटिल होने के कारण बुधवार की कोर्ट की कार्यवाही एडीजे सेकंड कोर्ट में स्थानांतरित कर दी गई की गई. अब तक 14 गवाहों के बयान दर्ज किये जा चुके हैं.

अब तक जिन लोगों ने इस बहु चर्चित हत्याकांड में गवाहियां दी हैं, उनमें मृतका का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर, मौका ए वारदात तथा सबूत की जांच करने वाले फोरेंसिक विशेषज्ञ, घटनास्थल से सीसीटीवी फुटेज खंगालने वाले पुलिस अधिकारी, जिस विद्यालय में छात्रा पढ़ती थी, उस विद्यालय के प्रधानाचार्य का भी बयान कोर्ट में दर्ज कराया जा चुका है. इसके अलावा इन्वेस्टिगेशन अधिकारी, मौका वारदात की वीडियोग्राफी करने वाले, शिकायत लेखक, लाश को घटनास्थल से उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज अस्पताल तक पहुंचाने वाले एंबुलेंस चालक, कांस्टेबल समेत कुल 10 गवाह और बुधवार को चार गवाहों के बयान हुए थे. इसके अलावा अदालत में उस महत्वपूर्ण साक्ष्य साइकिल को भी पेश किया गया था, मौके पर आरोपी ने इसका इस्तेमाल किया था. 6 जनवरी से यह प्रक्रिया चल रही है.

गवाहों के बयान कत्ल के आरोपी मोहम्मद अब्बास के खिलाफ जा रहे हैं. साक्ष्य भी चीख चीख कर कह रहे हैं कि मोहम्मद अब्बास निर्दोष नहीं है. कदाचित मोहम्मद अब्बास को भी आभास हो चुका है कि अब उसका बचना मुश्किल है. इसलिए वह काफी भावुक हो रहा था. इसके साथ ही वह सिंपैथी कार्ड भी खेल रहा था. आपको बताते चलें कि गवाहों का बयान दर्ज कराने के लिए आज अंतिम तारीख थी.

कोलकाता हाई कोर्ट के सरकारी वकील विभाष चक्रवर्ती इस समय सिलीगुड़ी में ही है. मामले की सुनवाई विशेष जज अनीता मेहरोत्रा माथुर की कोर्ट में चल रही थी. लेकिन चोटिल होने के बाद मामले की कार्यवाही स्थगित कर दी गई और जज जितेंद्र गुप्ता की कोर्ट में उसका ट्रांसफर कर दिया गया. यही चार गवाहो के बयान भी रिकॉर्ड किए गए. आपको बताते चलें कि 21 अगस्त को सिलीगुड़ी में एक ऐसी हृदय विदारक घटना घटी थी, जिसमें आरोपी मोहम्मद अब्बास ने दार्जिलिंग मोड के एक स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा का अपहरण करके उसके साथ एकांत स्थान में दुष्कर्म करने की कोशिश की. लेकिन इसमें सफल नहीं होने पर उसने उसकी हत्या कर दी थी. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की सहायता से कत्ल के आरोपी मोहम्मद अब्बास के खिलाफ एक-एक सबूत और साक्ष्य को इकट्ठा किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status