February 24, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

48 घंटाव्यापी ब॔द से सन्नाटे में डूबा सिक्किम!

अगर आप सिक्किम जाना चाहते हैं तो सोमवार तक इंतजार करना होगा. क्योंकि आज शनिवार और कल रविवार सिक्किम पूरी तरह बंद रहेगा. ना होगा कोई कारोबार और ना ही कोई सरकारी कार्य. वैसे तो सिक्किम के विभिन्न शहरों में ज्यादातर दुकानें हैं. शनिवार और रविवार दोनों ही दिन दुकानों में सन्नाटा पसरा नजर आएगा.

सिक्किम में आज से बंद शुरू हो गया है. सिक्किम के पूर्व मुख्यमंत्री पवन चामलिंग तथा उनकी पार्टी एसडीएफ ने यह बंद बुलाया है. यह बंद सुप्रीम कोर्ट के उस टैग के खिलाफ है, जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने सिक्किम के नेपाली समुदाय को विदेशी बताया था. वर्तमान में सिक्किम में सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा की सरकार है. इसकी स्थापना 4 फरवरी को ही की गई थी. इस तरह से आज एस केएम पार्टी का 11 वां स्थापना दिवस भी है.

सुप्रीम कोर्ट के सिक्किम के नेपाली समुदाय को विदेशी कहने के टैग के साथ ही सिक्किम में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता और संगठनों के प्रभारी सिक्किम नेपाली एकता का संदेश देने के लिए विभिन्न तरह से प्रदर्शन कर रहे हैं. सिक्किम में राजनीतिक धरना, प्रदर्शन, रैली के बीच आज बंद बुलाया गया है. इस बीच सिक्किम सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक समीक्षा याचिका दायर कर रखी है.

मुख्यमंत्री पी एस तमांग ने सिक्किम बंद को शांतिपूर्ण और अहिंसक बनाने की लोगों से अपील की है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सिक्किम बंद के कारण वहां दुकानों से लेकर दफ्तरों में भी व्यापक असर पड़ा है. सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा. वाहनों का आवागमन नहीं हो रहा है. सिक्किम के विभिन्न संगठनों और जाति उप जातियों ने स्वेच्छा से बंद में भाग लिया है और यह संदेश देने की कोशिश की है कि सिक्किम के नेपाली कोई विदेशी नहीं है. बल्कि भारतीय हैं और सिक्किम पर उनका पूरा हक है.

सिक्किम बंद से सिलीगुड़ी और सिक्किम का संबंध कटा रहा. सिक्किम घूमने आए पर्यटक होटलों में फंसे हैं. अब तक बंद के दौरान कहीं से भी कोई अप्रिय वारदात का समाचार नहीं है. बंद के दौरान निकाली गई रैली में पीएस तमांग मुर्दाबाद के नारे लगाए जाने तथा मुख्यमंत्री का पुतला दहन करने के क्रम में सिक्किम पुलिस ने 5 लोगों को हिरासत में लिया. जिस तरह से सिक्किम में यह बंद देखा जा रहा है,उससे लगता है कि इस बंद को ना केवल राजनीतिक समर्थन प्राप्त है बल्कि सिक्किम की जनता और व्यापारी सभी एकजुटता का प्रदर्शन कर रहे हैं.

आपको बताते चलें कि जब से यह मुद्दा सिक्किम में जोर पकड़ा है, तभी से राजनीतिक भूचाल आ गया है. सत्तारूढ़ पार्टी के एक मंत्री मणी कुमार शर्मा ने इसके विरोध में पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया है. राज्य सरकार और मुख्यमंत्री पीएस तमांग फूंक-फूंक कर कदम रख रहे हैं. उनकी पार्टी की ओर से पहले ही इसके विरोध में रैली निकाली जा चुकी है. सूत्रों ने बताया कि रविवार को भी सिक्किम पूरी तरह बंद रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status