April 14, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी में रेशम उद्योग में रोजगार मिलने की संभावना बढ़ी !

सिलीगुड़ी: एक ओर जहां देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है, तो वहीं सिलीगुड़ी में रोजगार के नए द्वार खुल गए है | बता दे कि, माटीगाड़ा इलाके में रेशम उद्योग में रोजगार की संभावना बढ़ती जा रही है | देखा जाए तो पिछले कुछ सालों में भारत में रेशम उद्योग में काफी बढ़ोतरी हुई है अब भारत ने रेशम के उत्पादन के मामले में जापान और कई देशों को पीछे छोड़ दिया है | माटीगाड़ा क्षेत्र में रेशम उद्योग को बढ़ावा मिलने से स्थानीय लोग भी काफी खुश है |
इस कार्य से जुड़कर कई बेरोजगार लोग अच्छी कमाई कर रहे हैं | किसानों द्वारा उत्पादित रेशम कीट 450 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बेची जा रही हैं, कई किसान रेशम की गांठ बेचने के बजाय खुद साड़ी बना रहे हैं और यह साड़ी महिलाओं को काफी पसंद भी आ रही है | धीरे-धीरे इस साड़ी की लोकप्रियता भी बढ़ रही है | जानकारी मिली है कि बीती दिनों एक रिसर्च टीम माटीगाड़ा के खपरैल मोड़ पर रेशम उद्योग का दौरा करने आई थी | टीम के सदस्यों ने पूरे क्षेत्र का दौरा भी किया और बताया कि, यहां रेशम उद्योग का अच्छा उत्पादन हो सकता है | फिलहाल इस उत्पादन में 50 से 55 स्थानीय परिवार शामिल है, इस वर्ष उत्पादन अन्य वर्ष की तुलना में काफी बेहतर हुई, जिससे स्थानीय लोगों से भी सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है |
उद्योग से जुड़े लोगों ने बताया कि, दो प्रकार के पेड़ों की खेती रेशम के कीड़ों के लिए की जाती है और उस कीड़े के कोकून से रेशम का धागा बनाया जा रहा है |
किसानों ने भी बताया कि, इस उद्योग से उन्हें हर साल अच्छा मुनाफा मिल रहा है और आने वाले दिनों में इस उद्योग में बढ़ोतरी होने की भी आशंका जताई है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status