June 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
स्वस्थ

सिलीगुड़ी में पहली बार एट्रियल सेप्टल का सही इलाज !

सिलीगुड़ी: दिल में छेद है | इस हृदय दोष के लक्ष्ण हैं सांस लेने में कठिनाई, श्वसन संक्रमण, अनियमित रूप से दिल धड़कना | दिल में छेद यह ऐसा दोष है जो इंसान जन्म के साथ ही लेकर आता है साधारण शब्दों में से हृदय दोष कहते हैं | सिलीगुड़ी और धूपगुड़ी के दो मरीज, 53 साल की एक महिला और 50 साल का एक पुरुष जन्म से ही एट्रियल सेप्टल यानि हृदय दोष से पीड़ित थे। इन दो रोगियों ने नॉर्थ बंगाल न्यूरो सेंटर प्राइवेट लिमिटेड, प्रधान नगर, सिलीगुड़ी में एमडी डीएम कार्डियोलॉजी डॉ. कैलाश कुमार गोयल से परामर्श किया। उन्होंने उचित निदान और परीक्षणों के बाद हृदय दोष का पता लगाया और डॉ. विकास कोहली, एमडी, एफएएपी, एफएसीसी को शामिल किया | साथ में उन्होंने ऊरु मार्ग के माध्यम से बिना हृदय खोले एएसडी क्लोजर का प्रदर्शन किया। यह एक बहुत प्रभावी प्रक्रिया है जिसमें रोगी को सामान्य एनेस्थीसिया नहीं दिया जाता है और अस्पताल में 2-3 दिन रहने के बाद दिन-प्रतिदिन की सामान्य गतिविधियाँ कर सकता है। बता दे नॉर्थ बंगाल न्यूरो सेंटर प्राइवेट लिमिटेड एक मल्टी स्पेशियलिटी सेंटर है, जो 1998 से काम कर रहा है। कैथ लैब सुविधा है, जो सिलीगुड़ी में पहली है। बता दे न्यूरो ट्रॉमा, स्पाइनल फिक्सेशन, वैरिकोज वेन्स, फिस्टुला, पाइल्स और कई अन्य मामलों का लेजर उपचार किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *