July 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
लाइफस्टाइल

सिक्किम में पर्यटकों के लिए नाथुला घूमने जाना हुआ आसान!

सिक्किम घूमने आने वाले पर्यटक नाथुला जरूर जाना चाहते हैं. नाथुला सिक्किम की राजधानी गंगटोक से लगभग 58 किलोमीटर की दूरी पर भारत चीन की अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र में स्थित है. लेकिन नाथुला घूमने जाना पर्यटकों के लिए अब तक आसान नहीं था. पर्यटकों की काफी समय से मांग थी. अब सिक्किम सरकार ने पर्यटकों की विभिन्न मांगों पर विचार करने के बाद नाथुला के लिए वाहन परमिट को आसान कर दिया है.

राज्य के मुख्य सचिव विजय भूषण पाठक की अध्यक्षता में हित धारकों तथा पर्यटकों को हो रही कठिनाइयों से बचाने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. अब से नाथुला के लिए 800 वाहनों को परमिट प्रदान किया जाएगा. यह नियम आज से प्रभावी हो गया है, जो 30 जून 2024 तक चलेगा. क्योंकि उसके बाद बरसात शुरू हो जाती है और पर्यटक सिक्किम से बाहर जाने लगते हैं.

सरकार ने पर्यटकों के हक में सभी प्रकार के वाहनों का किराया भी निर्धारित कर दिया है.जैसे अगर कोई पर्यटक लग्जरी वाहन से नाथुला जाना चाहता है तो इसका किराया ₹7000 होगा. इस ₹7000 के अंतर्गत नाथुला यात्रा का परमिट और सभी शुल्क शामिल किए जाएंगे. इसके अलावा पर्यटक को और कुछ नहीं देना होगा.

जबकि सामान्य यात्री वाहनों के लिए किराया 6500 रु निर्धारित किया गया है. सभी ट्रैवल एजेंसियों को इस बात की जानकारी दे दी गई है. अब कोई भी ट्रैवल एजेंसी पर्यटकों से सरकारी नियम अनुसार ही किराया वसूल सकती है. इससे ज्यादा नहीं. यात्रियों और पर्यटकों की सुरक्षा के लिए राज्य पर्यटन विभाग, सिक्किम पुलिस, चेक पोस्ट तथा सेना के जवान वाहनों की सख्त निगरानी करेंगे. नियम के अनुसार नाथुला प्रवेश गेट में तैनात भारतीय सेना पर्यटन विभाग द्वारा जारी परमिट के हिसाब से ही 800 से अधिक वाहनों की अनुमति नहीं होगी.

आपको बताते चलें कि कुछ दिन पहले ही एक पर्यटक से किराया वसूली के चक्कर में काफी विवाद हो गया था. पर्यटक से अधिक किराया वसूला जा रहा था. नाथुला जाने वाले पर्यटक पहले भी इस तरह की शिकायत कर चुके हैं. इन सभी स्थितियों को देखते हुए सरकार ने ट्रैवल एजेंसियों के लिए किराया निर्धारित कर दिया है. इसलिए अगर आप नाथुला जाना चाहते हैं तो मान्य नियमों के अनुसार ही ट्रैवल एजेंसियों को किराया देना होगा और नियमों के अनुसार ही नाथुला तक की यात्रा करनी होगी.

उम्मीद की जा रही है कि सरकार के इस नए नियम से पर्यटकों को काफी राहत मिली होगी. इसके साथ ही पर्यटक और ट्रैवल एजेंसियों के बीच संबंध अच्छे होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *