April 16, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी कावाखाली से बोले मोदी, भारत मेरा परिवार !

सिलीगुड़ी: आज सिलीगुड़ी में सूर्योदय उत्साह भरी उम्मीद के साथ हुआ | सिलीगुड़ी वासी कावाखाली में होने वाले प्रधानमंत्री की जनसभा को लेकर काफी उत्साहित थे | लोग सुबह से ही मंच की ओर प्रस्थान करने लगे थे | सिलीगुड़ी व आस-पास के क्षेत्र के लोग साथ ही पहाड़ वासी भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक झलक पाने के लिए भरी दोपहरी में हजारों की संख्या में कावाखाली मैदान में एकत्रित हो गए | जैसे-जैसे समय बिता गया, भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता और आम जनता की दिल की धड़कनें और तेज होने लगी | भाजपा पार्टी के विभिन्न नेता और सांसद लगातार मंच पर भाषण दे रहे थे, लेकिन लोगों की व्याकुल नजरे सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी के दर्शन पाने के लिए व्याकुल दिखी | शाम के 4:15 पर मोदी का काफिला कावाखाली पहुंचा | लोगों ने और भाजपा के कार्यकर्ताओं ने देश के प्रधानमंत्री का भव्य स्वागत किया | चारों तरफ अंगरक्षकों से घिरे देश के प्रधानमंत्री मोदी जैसे ही मंच की ओर बढ़े वैसे ही पूरा कावाखाली मैदान मोदी, मोदी के नाम से गूंज उठा, लोग लगातार मोदी के नाम का नारा लगाने लगे | मैदान में लगे बड़े-बड़े स्क्रीन में मोदी की तस्वीर देख सिलीगुड़ी की जनता एक टक उन्हें निहारने लगी | वही इस लोगों की भीड़ में काफी संख्या में पहाड़ी क्षेत्र से गोरखा समुदाय के लोग भी पहुंचे थे, वह भी बड़ी उम्मीद भरी नजरों से देश के प्रधानमंत्री को देख रहे थे | उसके बाद जैसे ही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘भारत माता की जय’ बोल मैदान में उपस्थित लोगों को संबोधित किया, वैसे ही लोगों ने भी ‘भारत माता की जय’ किनारे लगा दिए | उसके बाद प्रधान मोदी ने एक-एक कर अपने भाषण का पिटारा खोला, सबसे पहले तो उन्होंने बांग्ला भाषा बंगाल के लोगों को नमस्कार किया और कहां कि, सिलीगुड़ी में जब भी आते हैं, उन्हें साक्षात मिनी भारत के दर्शन होते हैं,जितनी विविधता इस क्षेत्र में है वह बहुत कम जगह नजर आती है | उसके बाद प्रधानमंत्री को अचानक अपने दुख के दिन याद आ जाते हैं | उन्होंने कहा कि, उन्होंने देश के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं को छोटी-छोटी चीजों के लिए तरसती देखा है, इसलिए उन्होंने महिलाओं के लिए शौचालय, नल से जल और मुफ्त बिजली कनेक्शन, बैंक का खाता, प्रेगनेंसी के समय आर्थिक मदद ,सभी चीजों पर अपना ध्यान केंद्रित किया है | िस्ता कहते हुए उन्होंने चाय श्रमिकों के बारे में दुख व्यक्त करते हुए कहा कि, इनका जीवन इतना सरल नहीं है कठिनाइयों से भरे जीवन को पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले चाय श्रमिक जीते आ रहे हैं,पानी और लकड़ी का प्रबंध करने में उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है | पहले लेफ्ट ने उनकी नहीं सुनी और अब टीएमसी ने भी उन्हें नजरअंदाज कर दिया, साथ उन्होंने उज्जवला कनेक्शन को लेकर भी टीएमसी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, इस मुफ्त गैस कनेक्शन को भी टीएमसी सरकार महिलाओं तक पहुंचने नहीं दे रही, लगभग 14 लाख महिलाएं अब भी इस उज्जवला परियोजना से वंचित है | साथ ही उन्होंने कहा कि, बीते कुछ समय में उज्जवला परियोजना के तहत महिलाओं के लिए गैस काफी सस्ता किया गया है, कल जो की महिला दिवस था, उसी को देखते हुए अब देश की महिलाओं को उपहार के तौर पर 100 रुपया गैस सिलेंडर सस्ता दिया जाएगा | कोरोना के समय पूरे देश में समस्याओं की काली छाया मंडरा रही थी, उसी दौरान भाजपा सरकार ने देश की जनता की समस्या को समझते हुए मुफ्त राशन परियोजना की शुरुआत की थी, ताकि कोई भी गरीब का बच्चा भूखा पेट रात को ना सोए और उन्होंने यह ऐलान करते हुए कहा कि, इस मुफ्त राशन परियोजना को और 5 साल बढ़ा दिया गया है | इस मुफ्त राशन परियोजना को कहते हुए मोदी जी ने यह भी याद दिलाया कि, इंडिया गठबंधन किस तरह से इस मुफ्त राशन परियोजना को रोकने का प्रयास कर रही है और उसके बाद इस राशन घोटाले के साथ उन्होंने बंगाल सरकार को भी लपेटे में लिया और कहा कि, दलित, आदिवासी, ओबीसी, महिला विरोधी टीएमसी सरकार ने तो इस परियोजना में ही घोटाला कर दिया और अब इस राशन घोटाले के मामले में बंगाल सरकार के नेता जेल की हवा खा रहे हैं | इस भाषण के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने बार-बार यह याद दिलाया कि, मोदी सरकार ने हमेशा गरीबों के हित के बारे में सोचा है और राशन के साथ-साथ लोगों को मुफ्त इलाज भी दिया है और बंगाल सरकार ने तो आयुष्मान योजना को बंगाल में लागू ही होने नहीं दिया, किस तरह से मनरेगा की मजदूरी का रुपया बंगाल सरकार फर्जी जॉब कार्ड बना कर टीएमसी के तोलेबाजों तक पहुंचा रही है यह भी प्रधान मंत्री ने बताया |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status