April 14, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

एनजेपी स्टेशन को मिला ‘ईट राइट स्टेशन’ का दर्जा!

क्या न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को अच्छा खाना मिलता है? क्या यात्री इस स्टेशन पर एफएसएसएआई द्वारा स्थापित मानकों के अनुकूल खाना प्राप्त करते हैं? एफएसएसएआई यानी फसाई खानपान के मानको का ख्याल रखती है तथा उसकी कसौटी पर खरा प्रोडक्ट या स्थान अगर बेहतरीन हुआ तो उसे इनाम या पुरस्कार भी दिया जाता है. फसाई ने माना है कि न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को पौष्टिक खाना मिलता है. इसलिए फसाई के द्वारा उसे ईट राइट स्टेशन का प्रमाण पत्र दिया गया है.

आपको बताते चलें कि मानक खाद्य भंडारण और स्वच्छता विधियो का पालन करने वाले रेलवे स्टेशनों को एफएसएसएआई द्वारा इट राइट स्टेशन प्रमाणन प्रदान किया जाता है. यह प्रमाणन एफएसएसएआई द्वारा उन रेलवे स्टेशनों को प्रदान किया जाता है जो यात्रियों को सुरक्षित और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने में मानक स्थापित करते हैं. यह प्रमाण पत्र इट राइट इंडिया अभियान का एक हिस्सा है.

न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन हमेशा यात्रियों से भरा रहता है. स्टेशन की व्यवस्था और फूड संचालन की कई बार यात्री तारीफ भी कर चुके हैं. यहां साफ सफाई की भी अच्छी व्यवस्था रहती है. कई मानकों को यह पूरा करता है स्टेशन. इसलिए फसाई के द्वारा इसे इट राइट का प्रमाणन दिया गया है. यह प्रमाणन पाने वाला एनजेपी स्टेशन पूर्वोत्तर सीमा रेलवे का आठवां रेलवे स्टेशन बन गया है. यह प्रमाणन 29 दिसंबर 2023 से 28 दिसंबर 2025 तक की अवधि के लिए प्रदान किया गया है.

इससे पहले पूर्वोत्तर सीमा रेलवे के अधीन गुवाहाटी, हरिशचंद्रपुर,लैमडिंग, रंगिया, मरियानी,समसी और न्यू बोगाई गांव रेलवे स्टेशनों को यह प्रमाणन मिल चुका है. ये सभी स्टेशन असम में आते हैं. अधिकांश रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को जो खाना अथवा फूड पैकेट उपलब्ध कराया जाता है, उसकी क्वालिटी अच्छी नहीं होती है. लेकिन न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन पर दूसरे स्टेशनों के मुकाबले थोड़ा अच्छा खाना मिलता है.

विश्व स्तरीय स्टेशन बनने जा रहे एनजेपी स्टेशन को यह प्रमाणन हासिल होने के बाद उसकी यात्रियों में लोकप्रियता बढ़ गई है. आप इससे कितना सहमत हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status