May 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल सिलीगुड़ी स्वस्थ

कोरोना की वैक्सीन ले चुके सिलीगुड़ी वासी हो जाएं सावधान!

क्या आपने कोरोना की वैक्सीन ले रखी है? अगर हां, तो एक बार जरूर अपना टेस्ट करा लें. हो सकता है कि वैक्सीन लेने के कारण आप वैक्सीन की साइड इफेक्ट के प्रभाव में हों. क्योंकि वैसे भी अनेक लोगों ने शिकायत की है कि कोरोना की वैक्सीन लेने के बाद वे विभिन्न शारीरिक और मानसिक परेशानियों का सामना कर रहे हैं. हालांकि आरंभ में इसे लोगों का वहम बताया गया था. परंतु अब तो खुद कोविशील्ड बनाने वाली कंपनी ने ही स्वीकार किया है कि कोविशील्ड का साइड इफेक्ट हुआ है. यह वैक्सीन लोगों के शरीर में खून के थक्के जमा रही है.

वैश्विक स्तर पर एस्ट्रेजनेका नामक कंपनी कोविशील्ड तैयार करती है. ब्रिटेन में इस कंपनी की एंटी कोरोनावायरस वैक्सीन ने कोविड-19 काल के समय लोगों की जान बचाई थी. हालांकि कोविशील्ड के साइड इफेक्ट भी सामने आ रहे हैं. जिमी स्काट नामक एक व्यक्ति ने इस कंपनी पर मुकदमा कर रखा है. व्यक्ति का दावा है कि इस कंपनी की कोविशील्ड वैक्सीन की वजह से अनेक लोगों की ब्रिटेन में मौत हुई है. ब्रिटेन की उच्च अदालत में यह मुकदमा चल रहा है. कंपनी ने ब्रिटेन के हाई कोर्ट को सौंपे दस्तावेज में कहा है कि कोविशील्ड के कारण साइड इफेक्ट संभव है. लेकिन यह बहुत कम मामलों में होता है.

फिलहाल तो ब्रिटेन और दूसरे पश्चिमी देशों में यह हलचल व्याप्त है. भारत में सिरम इंस्टीट्यूट कोविशील्ड तैयार करती है. लेकिन एस्ट्राजेनेका के ताजा मामले ने सिरम इंस्टीट्यूट की भी परेशानी बढ़ा दी है और उसकी विश्वसनीयता पर भी सवाल उठ रहे हैं. हालांकि कंपनी की ओर से अभी इस पर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. फिर भी लोग बाग जरूर डरे हुए हैं. खासकर ऐसे लोग जिन्होंने कोविशील्ड के टीके ले रखे हैं. एस्ट्राजेनेका ने उनके दिल की धड़कन और दिमाग का भय बढ़ा दिया है.

खैर, अगर आपने कोविशील्ड की वैक्सीन ले रखी है तो अगर निम्न लक्षण महसूस कर रहे हो तो सावधान हो जाएं.एस्ट्रेजनेका ने स्वीकार किया है कि वैक्सीन लेने से शरीर में खून के थक्के जम रहे हैं. इसके अलावा अगर अन्य प्रकार के लक्षण महसूस कर रहे हों जैसे TTS रोग, पेशाब में खून आना, मल में खून आना, असामान्य तरीके से रक्तस्राव, इत्यादि की स्थिति में सावधान रहे और एक बार अपना चेकअप जरूर करा लें. अन्यथा बहुत बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. ब्रिटेन में जिन लोगों ने कोविशील्ड वैक्सीन ले रखी है, उनमें से कई लोग व्याधियों के शिकार हो चुके हैं.

एस्ट्राजेनेका का सच सामने आने के बाद ब्रिटेन में हाहाकार मचा है. वहां लोगों को यह वैक्सीन नहीं दी जा रही है. भारत में कोविशील्ड का सच सामने आना बाकी है. पर विभिन्न न्यूज़ चैनल और मीडिया स्रोतों में यह खबर वायरल होने के बाद भारत में भी लोग डरे हुए हैं. जो लोग पहले से ही इस आशंका से ग्रस्त रहे हैं कि कोरोना वैक्सीन लेने के कारण ही वे विभिन्न व्याधियों के शिकार हो रहे हैं. इसके अलावा उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी घटी है. कुछ लोगों की माने तो वैक्सीन के कारण हृदयाघात की घटनाएं भी बढ़ी है, इत्यादि इत्यादि… ऐसे लोग कोविशील्ड तैयार करने वाली अंतरराष्ट्रीय कंपनी एस्ट्राजेनेका का कबूलनामा जानने के बाद दहशत में आ गए हैं.

हालांकि दावा यह भी किया जा रहा है कि बहुत कम मामलों में कोरोना वैक्सीन का साइड इफेक्ट होता है. बहरहाल इस घटना के बाद भारत में चिंता जरूर बढ़ गई है. गनीमत है कि अभी भारत में सीरम इंस्टिट्यूट पर उंगली नहीं उठी है. अब देखना है कि इस खबर के बाद भारत में कोविशील्ड वैक्सीन ले चुके लोगों की ओर से क्या प्रतिक्रिया सामने आती है. क्या आप भी किसी तरह की शारीरिक मानसिक और भावनात्मक परेशानी महसूस कर रहे हैं?

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *