May 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल जुर्म लाइफस्टाइल सिलीगुड़ी

सिलीगुड़ी महकमा के अंतर्गत अवैध बालू- पत्थर खनन के कार्य में लगे लोगों की शुरू हुई धर पकड़!

सिलीगुड़ी और आसपास के इलाकों में जो लोग नदियों से अवैध तरीके से बालू खनन और ट्रकों से ढुलाई के कार्य में चोरी छिपे लगे हुए हैं, अब उनकी शामत आने वाली है. क्योंकि खबर समय पर मेची नदी में उत्खनन और ट्रकों से ढुलाई का सारा हाल दिखाए जाने के बाद अधिकारी और पुलिस के लोग सक्रिय हो गए हैं. ऐसे लोगों की धर पकड़ का काम शुरू हो चुका है. अब तक कई लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है. भूमि संस्कार विभाग और पुलिस का यह अभियान लगातार चलता रहेगा.

खबर समय पर 2 दिन पहले भारत नेपाल सीमांत पानी टंकी के पास मेची नदी में दिनदहाड़े ट्रकों के द्वारा बालू पत्थर की ढुलाई तथा खनन को दिखाए जाने के बाद सिलीगुड़ी मेट्रोपोलिटन पुलिस ने ऐसे लोगों की धर पकड़ शुरू कर दी है, जो अवैध तरीके से इस कार्य में लिप्त हैं. यहां तक कि जलपाईगुड़ी इलाके में भी अधिकारियों के द्वारा यह अभियान चलाया जा रहा है.

सिलीगुड़ी महकमा परिषद के विभिन्न थाना क्षेत्रों के अंतर्गत सिलीगुड़ी मेट्रोपोलिटन पुलिस नदियों में गैर कानूनी तरीके से बालू पत्थर की ढुलाई और खनन रोकने के लिए अभियान चला रही है तो दूसरी ओर जो लोग इस कार्य में लिप्त हैं, उनके खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही भी की जा रही है. इससे बालू माफिया और ट्रक चालकों में दहशत फैल गई है.

सिलीगुड़ी और आसपास के इलाकों में पिछले दो दिनों से बालू माफिया और अवैध तरीके से बालू खनन कार्य करने वालों के खिलाफ भूमि सुधार और राजस्व विभाग के अधिकारियों के द्वारा कार्रवाई की जा रही है. पुलिस लोगों को गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा रही है या फिर ऐसे लोगों से दंड वसूले जाने के बाद ही उन्हें छोड़ा जा रहा है.

सिलीगुड़ी महकमा परिषद के अंतर्गत घोषपुकुर इलाके में पुलिस ने एक अभियान चलाकर बालू पत्थर से लदे तीन ओवरलोडिंग डंपरों को रोक कर चालकों से कागजात दिखाने को कहा. लेकिन जब चालकों ने वैध दस्तावेज नहीं दिखाए, तब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. यह घटना पिछली रात की है. तीनों डंपरों को जप्त करके पुलिस फांसी देवा थाना ले आई. पुलिस ने जिन लोगों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया है, उनके नाम अरविंद मिंस 49 साल, मोहम्मद विकी 30 साल और मोहम्मद खुर्शीद 39 साल है.

एक अन्य घटना में बिधाननगर थाना की पुलिस ने फांसी देवा ब्लॉक के जगन्नाथपुर में छापेमारी अभियान चलाया. पुलिस को अपने सूत्रों से जानकारी मिली थी कि इस इलाके में नदियों से चोरी चुपके बालू और पत्थरों की तस्करी की जा रही है. इसके बाद पुलिस ने छापेमारी अभियान चलाया और तीन ट्रैक्टरों को जप्त कर लिया. यह सभी ट्रैक्टर बालू पत्थर से लदे हुए थे. चालकों के नाम जबर अली 35 साल, मुबारक अली 23 साल और मोहम्मद आसिफ 26 साल है. आज पुलिस ने तीनों आरोपियों को सिलीगुड़ी कोर्ट में प्रस्तुत किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

इसी तरह से धुपगुड़ी इलाके में भी छापेमारी अभियान चल रहा है. भूमि एवं भूमि संस्कार विभाग के द्वारा छापेमारी में एक से अधिक बालू पत्थर लदे ट्रकों को जप्त किया गया है. कई चालकों और गाड़ी पर जुर्माना भी लगाया गया है. यह अभियान बृहस्पतिवार की सुबह-सुबह चलाया गया था. भूमि संस्कार विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने लगभग 15 से 16 ट्रको को रोका. उनमें से पांच ट्रक ओवरलोडिंग कर बालू पत्थर ले जा रहे थे.

इस अभियान के बाद नदियों से अवैध खनन कार्य कर रहे लोगों में दहशत फैल गई, जिसके करण ट्रकों का परिचालन बंद हो गया. अधिकारियों ने पांच वाहनों से जुर्माना वसूला और उन्हें चेतावनी भी दी गई. अब पुलिस सिलीगुड़ी और आसपास के इलाकों में गाड़ियों का चालान रॉयल्टी की भी जांच कर रही है. सूत्रों ने बताया कि सिलीगुड़ी महकमा परिषद इलाके में यह अभियान लगातार चलता रहेगा. यह खबर समय पर खबर दिखाए जाने का ही असर माना जा रहा है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *