July 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति लोकसभा चुनाव सिलीगुड़ी

4 जून को सिलीगुड़ी कॉलेज के स्ट्रांग रूम का खुलेगा ताला… कौन बनेगा किस्मत वाला!

सिलीगुड़ी कॉलेज के स्ट्रांग रूम की तरह दार्जिलिंग संसदीय क्षेत्र के उम्मीदवारों की किस्मत का ताला बंद हो चुका है, जो 4 जून को खुलने जा रहा है.EVM की सुरक्षा त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरे में की गई है. यहां परिंदा भी पर नहीं मार सकता. पूरे इलाके की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से की जा रही है.

आजकल सिलीगुड़ी कॉलेज मैदान की खूब चर्चा हो रही है. क्योंकि मतगणना यही होने वाली है. सिलीगुड़ी कॉलेज के स्ट्रांग रूम में भाजपा उम्मीदवार राजू विष्ट, तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार गोपाल लामा और कांग्रेस उम्मीदवार मुनीष तमांग की किस्मत कैद हो चुकी है. सिलीगुड़ी कॉलेज के स्ट्रांग रूम में चोपड़ा के साथ-साथ दार्जिलिंग लोकसभा केंद्र अंतर्गत समतल के चार विधानसभा क्षेत्रों की कुल 1082 मतदान केन्द्र की Evm भी यहां सुरक्षित रखी गई है.

पहली बार चोपड़ा विधानसभा क्षेत्र का Evm सिलीगुड़ी कॉलेज में लाया गया है. इससे पहले चोपड़ा विधानसभा क्षेत्र का ईवीएम इस्लामपुर कॉलेज के स्ट्रांग रूम में बंद किया जाता था. मतगणना भी वही होती थी. लेकिन इस बार चोपड़ा का भी ईवीएम सिलीगुड़ी कॉलेज के स्ट्रांग रूम में बंद कर दिया गया है. यही कारण है कि सिलीगुड़ी कॉलेज चर्चा में है.

दार्जिलिंग संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत पहाड़ के तीन विधानसभा क्षेत्रों की ईवीएम को दार्जिलिंग सरकारी कॉलेज के स्ट्रांग रूम में बंद किया गया है. मतों की गिनती यहीं होगी. दार्जिलिंग विधानसभा के सबसे दुर्गम मतदान केंद्र श्रीखोला डारा गांव, रमन और समनदीन का ईवीएम शनिवार को स्ट्रांग रूम लाया गया था. स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था ऐसी है कि यहां किसी तरह की चूक होने की कोई गुंजाइश नहीं है.

सिलीगुड़ी कॉलेज की स्ट्रांग रूम की सुरक्षा में अर्धसैनिक बल सीसीटीवी कैमरा और पुलिस को तैनात किया गया है. स्ट्रांग रूम को सील करने के दौरान आमतौर पर सभी दलों के उम्मीदवारों के प्रतिनिधि, जिला मुख्य चुनाव अधिकारी, जिला शासक, सिलीगुड़ी महकमा शासक, दार्जिलिंग लोकसभा के लिए नियुक्त जनरल पर्यवेक्षक व अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहते हैं. स्ट्रांग रूम का ताला लगाने के दौरान मौके पर दार्जिलिंग जिला शासक प्रीति गोयल, सिलीगुड़ी महकमा शासक अवध सिंहल ,जनरल पर्यवेक्षक विक्रम सिंह मलिक तथा आला अधिकारी उपस्थित थे. मिली जानकारी के अनुसार चार विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम को अलग-अलग चार कमरों में रखा गया है.

संपूर्ण सिलीगुड़ी कॉलेज परिसर को सीसीटीवी कैमरे से पाट दिया गया है. स्ट्रांग रूम के बाहर और सिलीगुड़ी कॉलेज परिसर में अर्धसैनिक बल गश्त लगा रहे हैं. इसके अलावा स्ट्रांग रूम के मुख्य प्रवेश द्वार पर मेटल डिटेक्टर मशीन के साथ पुलिस और अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है. सुरक्षा के और भी कदम उठाए गए हैं. यह कहा जा सकता है कि ईवीएम सात ताले में बंद है. तीनों ही प्रमुख दलों के उम्मीदवारों के दिल की धड़कन लगातार बढ़ती जा रही है. सिलीगुड़ी कॉलेज मैदान और स्ट्रांग रूम उनकी किस्मत का फैसला 4 जून को करने वाला है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *