April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल जलपाईगुड़ी राजनीति सिलीगुड़ी

ममता बनर्जी का कर्सियांग में जोरदार स्वागत!

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दोपहर लगभग 2:00 बजे बागडोगरा हवाई अड्डे पर उतरने के बाद सीधे कर्सियांग के लिए प्रस्थान कर गई. यहां वह अपने एक रिश्तेदार की शादी के कार्यक्रम में आई हुई है और अगले तीन दिनों तक कर्सियांग में ही रुकी रहेंगी.

बागडोगरा हवाई अड्डे पर मुख्यमंत्री का स्वागत सिलीगुड़ी नगर निगम के मेयर गौतम देव ने किया. हवाई अड्डे से बाहर निकलते समय मुख्यमंत्री ने गौतम देव के साथ कुछ बात की. उसके बाद वह पत्रकारों के समक्ष रूबरू हुई. कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का फिल्मी सितारों के साथ डांस सुर्खियों में है. इसे लेकर जब पत्रकारों ने मुख्यमंत्री से सवाल किया तो मुख्यमंत्री ने जवाब दिया कि उन्हें डांस करना नहीं आता. वह सिर्फ आदिवासियों के साथ ही डांस करती हैं. फिल्मी सितारों का सम्मान करने के लिए ही उसने उनके साथ स्टेप किए थे.

कोलकाता में फिल्म फेस्टिवल के आयोजन को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक टिप्पणी की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य में वित्तीय हालत खराब है. लेकिन मुख्यमंत्री फिल्मी सितारों का जमघट लगा रही है. इस पर मुख्यमंत्री ने सीधे कोई जवाब नहीं दिया. ममता बनर्जी अपने पुराने अंदाज में दिख रही थी. उन्होंने आदिवासी आंदोलन के संस्थापक कानू सान्याल के नक्सलबाड़ी ब्लॉक के शेपडोला जोत गांव में पेयजल संकट के समाधान की बात करते हुए कहा कि इस गांव को पूर्व सांसद एसएस अहलूवालिया ने गोद लिया था. इसलिए राज्य सरकार ने इसमें कोई हस्तक्षेप नहीं किया. बाद में इस गांव को सार्वजनिक स्वास्थ्य तकनीकी विभाग को सौंप दिया गया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस गांव के लोग गंभीर पेयजल संकट से गुजर रहे हैं. लेकिन अब यहां जल संकट की समस्या नहीं रहेगी. उन्होंने कहा कि सिलीगुड़ी नगर निगम और दार्जिलिंग के जिला अधिकारी प्रीति गोयल को यहां समस्या के समाधान का निर्देश दिया गया है. सिलीगुड़ी नगर निगम के द्वारा इस इलाके में पेयजल आपूर्ति की जाएगी, जब तक कि यहां पेयजल संकट का स्थाई समाधान ढूंढ़ नहीं लिया जाता. आपको बताते चलें कि इस गांव के लोग काफी समय से पेयजल संकट से दो चार हो रहे हैं.

जब समस्या का समाधान नहीं हुआ, तब गांव के लोगों ने कोलकाता हाई कोर्ट की जलपाईगुड़ी सर्किट बेंच में एक मामला दायर किया. इसकी सुनवाई न्यायाधीश अभिजीत गंगोपाध्याय ने की थी. न्यायाधीश महोदय ने तुरंत ही समस्या समाधान का निर्देश सरकार को दिया था. आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आश्वासन तथा पेयजल संकट समाधान की बात कहने पर गांव के लोगों ने राहत की सांस ली है और इसे एक सकारात्मक कदम मान रहे हैं. इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कर्सियांग के लिए प्रस्थान कर गई.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कारवां शाम 4:00 बजे कर्सियांग पहुंचा तो भारतीय गोरखा प्रजातांत्रिक मोर्चा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता खुशी से नाच उठे. भारतीय गोरखा प्रजातांत्रिक मोर्चा की ओर से मुख्यमंत्री का स्वागत करने के लिए स्वयं GTA चेयरमैन अनित थापा मौजूद थे. दोपहर 2:00 बजे से ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का इंतजार किया जा रहा था. भारतीय गोरखा प्रजातांत्रिक मोर्चा और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता गीत संगीत की धुन पर थिरक रहे थे. जैसे ही मुख्यमंत्री का कारवां वहां पहुंचा, कार्यकर्ताओं में खुशी की सीमा नहीं रही. उन्होंने मुख्यमंत्री के स्वागत में पलक पांवरे बिछा दिए.

अनित थापा तथा उनके कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का स्वागत ऐसे ही किया, जैसे उन्होंने तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी का कर्सियांग पहुंचने पर किया था. अभिषेक बनर्जी 4 तारीख को ही कर्सियांग पहुंच गए थे. वह वहां ताज होटल में रुके हुए हैं. ममता बनर्जी कर्सियांग में आमा होम स्टे में रुकी हुई हैं.यह मकईबारी में स्थित है. हालांकि यह होम स्टे भी ताज होटल की प्रॉपर्टी मानी जाती है. यहां सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और सांसद अभिषेक बनर्जी कर्सियांग के नया बाजार में होने वाली अपने रिश्तेदार की शादी में सम्मिलित होने के लिए आए हैं. जिस हाॅल में यह शादी संपन्न होगी, उसे दुल्हन की तरह सजाया गया है. 7 दिसंबर को यह शादी संपन्न होगी और 8 दिसंबर को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का मोटिवेट ग्राउंड में एक सभा होने वाली है. सभा स्थल पर पंडाल का निर्माण कार्य जोरों से चल रहा है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 8 दिसंबर को पहाड़ के लोगों को संबोधित करेंगी और उन्हें जीटीए प्रोजेक्ट के जरिए एक बड़ा तोहफा दे सकती हैं.सूत्रों ने बताया कि यह मुख्यमंत्री का प्रस्तावित गिफ्ट कार्यक्रम होगा. मुख्यमंत्री राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ लाभान्वितों को प्रदान करेगी जो पहाड़ के लोगों और चाय बागान व आदिवासी बहुल लोगों के कल्याण के लिए होगा. इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अलीपुरद्वार के लिए प्रस्थान कर जाएंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status