July 13, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिक्किम में अब नहीं रहेगा कोई गरीब… बनेगा नंबर वन प्रदेश!

सिक्किम के साथ कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उपमाएं जुड़ चुकी हैं. जैविक खेती के लिए सिक्किम दुनिया में प्रसिद्ध है. इसके अलावा सिक्किम स्वच्छता और अनुशासन के लिए भी भारत के अन्य राज्यों के लिए उदाहरण है.

सिक्किम की जलवायु ऐसी है कि यह प्रदेश विकास के विभिन्न अवरोधको का सामना कर रहा है. भारत सरकार सिक्किम समेत पूर्वोत्तर राज्यों के विकास पर ज्यादा ध्यान दे रही है. सिक्किम को रेल मार्ग से जोड़ने की योजना कार्यान्वित की जा रही है. अब जल्द ही सिक्किम के विकास की पटकथा लिखी जाएगी.

सिक्किम में निवेश बढ़ाने के लिए दुनिया के कई देशों के व्यापारिक प्रतिनिधि दिलचस्पी दिखा रहे हैं. सिक्किम की राजधानी गंगटोक में B 20 इंडिया की तीन दिवसीय बैठक हुई थी. इस बैठक में विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया और सिक्किम के विकास का संकल्प व्यक्त किया.

सिक्किम में पर्यटन, हॉस्पिटैलिटी, फार्मास्युटिकल्स और ऑर्गेनिक फार्मिंग के क्षेत्रों में काफी संभावनाएं हैं. इन क्षेत्रों में निवेश बढ़ाने से सिक्किम एक समृद्ध राज्य होगा. जहां घर घर में रोजगार और हर हाथ को काम मिलेगा. सिक्किम की गरीबी दूर होगी. सिक्किम के गरीब लोगों के जीवन में बहार आएगी. इन क्षेत्रों में निवेश बढ़ाने से एक तरफ जहां सिक्किम का प्राकृतिक विकास होगा, वही यहां रोजगार बढ़ने से लोगों को काम धंधे भी मिलेंगे. इससे सिक्किम के विकास को नई गति मिलेगी.

G20 सम्मेलन में शामिल होने आए प्रतिनिधियों के B20 सम्मेलन में सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने अतिथियों का स्वागत करते हुए निवेश के लिए आभार व्यक्त किया. यहां कई ऐसे सेक्टर हैं जो पर्यटन के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण हैं. जैसे होटल उद्योग यहां काफी विकसित हो सकता है. इसके अलावा सिक्किम में आईटी, नेचुरल फार्मिंग, जैविक खेती, कौशल विकास आदि क्षेत्रों में निवेश बढ़ाने से यहां के लोगों के जीवन में एक नई क्रांति आएगी.

सिक्किम में यह जरूरत काफी समय से महसूस की जा रही थी. हालांकि राज्य सरकार सिक्किम में युवा शक्ति और महिला सशक्तिकरण की दिशा में कई योजनाएं ला रही है. सिक्किम की गरीब महिलाओं के सामाजिक उत्थान के लिए हाल ही में सिक्किम सरकार ने एक योजना शुरू की है.

मिली जानकारी के अनुसार आने वाले समय में सिक्किम में लगभग 1000 करोड़ का निवेश होने वाला है. इनमें आईटी सेक्टर में 400 करोड़ का निवेश होगा. बहुत जल्द सिक्किम में वन उत्पाद, होटल, मोनोरेल समेत विभिन्न क्षेत्रों में एक नई क्रांति देखने को मिल सकती है! इस खबर के बाद सिक्किम के लोगों के नेत्रों में भविष्य के सुनहले सपने तैरने लगे हैं.

आपको बताते चलें कि सिक्किम में B 20 का गठन 2010 में हुआ था. यह वैश्विक व्यापार समुदाय के साथ आधिकारिक G 20 संवाद फोरम है. गंगटोक में 15 मार्च से 17 मार्च तक दुनिया भर से आए देशों के प्रतिनिधियों के साथ तीन दिवसीय बैठक हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *