April 19, 2024
Sevoke Road, Siliguri
अलीपुरद्वार उत्तर बंगाल जुर्म सिलीगुड़ी

बागडोगरा का रोंगटे खड़े कर देने वाला सनसनीखेज कांड:’पोती’ को मां बनाने वाला एक ‘दादू’ ऐसा भी!

16 साल की अनुराधा खूबसूरत और हंसमुख थी. उसे टीवी देखना अच्छा लगता था.टीवी में एक सीरियल वह नियमित रूप से देखती थी. अनुराधा के घर में टीवी नहीं था. इसलिए वह पड़ोस में दिवेश सरकार के घर टीवी देखने चली जाती थी. दिवेश सरकार अपने दो कमरों के मकान में अकेला रहता था. उसकी उम्र लगभग 70-75 साल थी. अनुराधा उसे दादू कह कर संबोधित करती थी. पढ़ाई लिखाई के काम से फुर्सत मिलते ही वह दादू के पास चली जाती थी और उससे बातें करते हुए टी वी भी देखती रहती थी.

पास पड़ोस के लोगों को अच्छा नहीं लगता था कि अनुराधा दिवेश सरकार से ज्यादा संपर्क रखे और उसके घर में उठना बैठना करे. क्योंकि जमाना खराब था. परंतु अनुराधा की मां पड़ोसियों को डांट देती थी कि दिवेश सरकार की उम्र देख लो और उसकी बेटी की उम्र देख लो. दिवेश सरकार उसे पोती मानता है. अनुराधा भी उसे दादू की तरह ही देखती है. समय गुजरता रहा.

पिछले कुछ दिनों से अनुराधा के हाव भाव में ही नहीं, बल्कि उसके शरीर में भी बदलाव आ रहे थे. उसका पेट बाहर निकल रहा था. अनुराधा की मां की समझ में नहीं आया. लेकिन उसे कहीं ना कहीं कुछ शक भी हो रहा था. एक दिन मां खुद ही अनुराधा को लेकर डॉक्टर के पास पहुंची, तो लेडी डॉक्टर ने अनुराधा का चेकअप करके कहा, अनुराधा मां बनने वाली है! अनुराधा की मां सोना देवी के लिए यह खबर किसी बम विस्फोट से कम नहीं था.

घर आकर सोना देवी ने अनुराधा की खबर ली. उसके बाद अनुराधा ने सारी सच्चाई बता दी कि किस तरह से दादू ने उसके सिर और बदन पर हाथ फेरते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया था. जब उसने दादू की हरकत के बारे में घर वालों को बताने की बात कही,तो दादू ने जान से मारने की धमकी दी. अनुराधा ने बताया कि हर दूसरे तीसरे दिन दादू उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म करता था. वह कहता था कि अगर उसने उसकी बात नहीं मानी तो वह उसके पूरे परिवार को मरवा देगा.

सोना देवी ने सर्वप्रथम बेटी और घर की इज्जत बचाने के लिए अनुराधा का गुपचुप रूप से गर्भपात कराने की कोशिश की. लेकिन अनुराधा का गर्भ जिस स्थिति में पहुंच गया था, वहां उसका गर्भपात करना संभव ही नहीं था. डॉक्टर ने तो यह भी कह दिया कि लड़की आजकल में ही मां बन सकती है. 10 दिन पहले ही अनुराधा ने अपनी कोख से एक बच्ची को जन्म दिया है. यह घटना बागडोगरा थाना के अंतर्गत एक गांव में घटी है.

अपनी तरह का यह पहला मामला है, जिसमें एक बुजुर्ग व्यक्ति ने पोती समान एक नाबालिग बालिका को न केवल अपनी हवस का शिकार बनाया, बल्कि उसे एक बच्ची की मां तक बना दिया. यह घटना टीवी चैनलों व समाचार पत्रों की सुर्खियां बनी है.

जब इस मामले की जानकारी पड़ोसियों को हुई तो पूरे मोहल्ले और आसपास के क्षेत्रो में शोर मच गया. गुस्साए लोग अनुराधा तथा उसके घर वालों को लेकर बागडोगरा थाना पहुंचे और थाना अध्यक्ष को सारी बात बता दी. पुलिस ने दुष्कर्मी दिवेश सरकार के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है तथा उससे विस्तृत पूछताछ की जा रही है. एक ऐसा ही सनसनीखेज मामला अलीपुरद्वार जिले के अंतर्गत कालचीनी थाना का है. 60 साल के एक व्यक्ति ने 15 साल की लड़की को बहला फुसलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया है.

व्यक्ति का नाम पवन दास है. उसने पड़ोस में रहने वाली एक बालिका को चॉकलेट देने के बहाने उसे घर में बुलाया और उसके साथ दुष्कर्म कर डाला. बालिका ने रोते हुए यह बात अपने घर में बता दी. उसके बाद घर वालों ने पवन दास के खिलाफ कालचीनी थाने में मुकदमा दर्ज कराया. पुलिस ने पवन दास को गिरफ्तार कर लिया है.

हमारे समाज में ऐसी घटनाएं काफी हो रही हैं.ऐसे में माता-पिता और घर वालों को अपनी बेटियों पर सतर्क दृष्टि रखनी चाहिए. किसी भी व्यक्ति अथवा सामाजिक रिश्ते पर आंख मूंद कर भरोसा नहीं करना चाहिए. इसके साथ ही बेटियों को भी बहादुर बनने की जरूरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status