February 26, 2024
Sevoke Road, Siliguri
Uncategorized

सिलीगुड़ी के बाजार में छोटे नोटों की किल्लत दूर होगी!

सिलीगुड़ी समेत देशभर के बाजार से छोटे-छोटे नोट गायब हो रहे हैं. बैंकों के एटीएम से अधिकांशतः ₹500 के नोट निकलते हैं. ₹100 अथवा ₹50 के नोट निकलते आपने बहुत कम देखे होंगे. यानी ₹500 के नोटों की भरमार तो है परंतु ₹50, ₹100 अथवा ₹100 से छोटे नोट नहीं मिलते हैं. अगर सिलीगुड़ी के बाजार में ₹500 के नोट आप खुले कराने की सोच रहे हैं, तो जब तक आप दुकान से ₹50 अथवा ₹100 के सामान खरीद नहीं लेते तब तक आप यह मत सोचिए कि ₹500 का चेंज दुकानदार आसानी से आपको दे देगा.

पहली बात यह है कि बाजार में छोटे नोटों की किल्लत है. ₹500 के नोट खूब प्रचलन में है. जिन दुकानदारों के पास छोटे-छोटे नोट हैं, वे उन्हें जमा करके रखना चाहते हैं. कुछ दुकानदार छोटे नोटों की बदौलत अच्छा खासा मुनाफा कमा रहे हैं. सूत्र बता रहे हैं कि कुछ लोग 2 से 5% के कमीशन पर छोटे नोट एक्सचेंज करते हैं. सिलीगुड़ी में ही नहीं बल्कि देश भर के बाजारों में छोटे नोटों की भारी किल्लत साफ देखी जा रही है.

₹2000 के नोटों की छपाई बंद हो जाने के बाद ₹500 के नोट बाजार में बहुतायत हैं. लेकिन ₹500 से छोटे-छोटे नोटों की छपाई या तो बंद है या फिर बाजार में चलन में बहुत कम है. ऐसे में आम लोगों को छुट्टे कराने की बड़ी समस्या उत्पन्न हो रही है. कई बार ऐसा भी होता है कि नोट छुट्टे कराने के चक्कर में काफी विलंब हो जाता है. ऐसे में कई महत्वपूर्ण कार्य अधूरे रह जाते हैं. यह समस्या यूं तो काफी पहले से है, परंतु हाल के दिनों में छुट्टे को लेकर लोगों की कठिनाइयां बढ़ती जा रही हैं.

भारतीय रिजर्व बैंक ने वर्तमान में देश के लोगों की कठिनाइयों को समझा है और संकेत किया है कि जल्द ही बैंक के एटीएम में ₹500 से कम के छोटे-छोटे नोट जैसे ₹100, ₹200 आदि की शक्ल में नोट भारी मात्रा में निकलने लग जाएंगे. सूत्र बता रहे हैं कि आरबीआई जल्द ही ₹100 या ₹200 या ₹100 से कम के नोटों की संख्या बढ़ाने के लिए गाइडलाइंस जारी कर सकता है.

खुले पैसों को लेकर आ रही देशव्यापी समस्या पर आरबीआई अधिकारियों की हाल ही में एक बैठक हुई है. इस बैठक में कई फैसले लिए गए हैं. कई महत्वपूर्ण और अहम सुझाव भी शामिल किए गए हैं. सूत्रों के अनुसार आरबीआई जल्द ही बाजार में छोटे नोट उतार सकती है. इसके अलावा छोटे नोटों की कमी की भरपाई के लिए आरबीआई इस पर भी विचार कर रहा है कि यूपीआई आधारित एटीएम लगाया जाए. यूपीआई आधारित एटीएम छोटे-छोटे लेनदेन के लिए जाना जाता है. ऐसे एटीएम से लोग छोटे-छोटे पैसे निकाल सकेंगे.

सिलीगुड़ी में एक बड़ी समस्या एक रुपए या ₹2 के सिक्कों को लेकर हो रही है. रेजगारी पैसे यूं तो बाजार में बहुतायत है लेकिन कई लोग इन पैसों को लेने से बचते हैं. सिलीगुड़ी के कई इलाकों में छोटे दुकानदार ₹1 या ₹2 के सिक्कों को लेने से कतराते हैं. वहीं दूसरी ओर शहर में ₹5, ₹10 ,₹20, ₹50 और ₹100 के नोटों की संख्या में कमी आ गई है.

सिलीगुड़ी के विभिन्न इलाकों के कुछ दुकानदारों ने बताया कि यहां एक तरफ तो ₹1 या ₹2 के सिक्के लेने से लोग कतराते हैं तो दूसरी ओर खुले पैसे को लेकर समस्या और गंभीर है. उन्होंने कहा कि यहां भी छोटे पैसों को चलन में लाने की जरूरत है. ऐसे में सिलीगुड़ी में छोटे नोटों की किल्लत दूर होने के अवसर बढ़ेंगे.

बहर हाल ऐसा लगता है कि आरबीआई के उठाए जाने वाले कदमों से सिलीगुड़ी समेत देशभर में छोटे नोटों की किल्लत दूर हो सकेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status