April 16, 2024
Sevoke Road, Siliguri
उत्तर बंगाल राजनीति सिलीगुड़ी

दिनहाटा रणक्षेत्र में तब्दील! तृणमूल का 24 घंटे का बंद!

तृणमूल कांग्रेस ने दिनहाटा की घटना के विरोध में आज 24 घंटे का बंद बुलाया है. पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सी वी आनंद बोस ने घटना पर चिंता जताई है और राज्य के पुलिस प्रमुख से घटना की रिपोर्ट मांगी है. आज दिनहाटा में दुकान और प्रतिष्ठान बंद हैं. उत्तर बंगाल में दिनहाटा सबसे संवेदनशील इलाका माना जाता है. यहां आए दिन तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच भिड़ंत और हिंसा की खबरें आती रहती हैं. दो पार्टियों की आपसी लड़ाई में यहां के व्यवसायी और अन्य लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. होली से पहले दुकान बंद रहने से दिनहाटा के व्यापारियों को बहुत घाटा हो रहा है.

बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता राज्य मंत्री उदयन गुहा का जन्मदिन गौरी शंकर माहेश्वरी के घर पर मना रहे थे. उस समय केंद्रीय मंत्री निशित प्रमाणिक का काफिला वहां से गुजर रहा था. भीड़ में केंद्रीय मंत्री का काफिला फंस गया, जिसे निकालने के लिए केंद्रीय मंत्री के गार्ड्स ने कथित रूप से कुछ तृणमूल कार्यकर्ताओं की पिटाई कर दी. अपने कार्यकर्ताओं पर हुए हमले के विरोध में मंत्री उदयन गुहा केंद्रीय मंत्री से भिड़ गए और उनके बीच हाथापाई भी हो गयी. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस घटना में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों पक्षों के कई लोग घायल हुए हैं. इस दौरान स्थिति को नियंत्रित करने जाने के क्रम में दिनहाटा के एसडीपीओ के सिर में गहरी चोट लगी है.

दिनहाटा की घटना के लिए दोनों मंत्रियों ने एक दूसरे को जिम्मेदार ठहराया है. उदयन गुहा ने एक बयान जारी कर कहा है कि भाजपा के लोगों ने उनके कार्यकर्ताओं पर लाठी और बांस से हमला किया है. उन्होंने केंद्रीय राज्य मंत्री निशित प्रमाणिक और चुनाव आयोग पर हमले बोला है. उदयन गुहा ने कहा कि जानबूझकर उनके कार्यकर्ताओं को रोका गया और उन्हें मारा पीटा गया. उनके कार्यकर्ता उनका जन्मदिन मना रहे थे. उन्होंने कहा कि केंद्रीय सुरक्षा बल और चुनाव आयोग एक पार्टी के पक्ष में काम कर रहा है. इस घटना के विरोध में दिनहाटा में तृणमूल कांग्रेस ने बंद बुलाया है.

दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री निशित प्रमाणिक ने कहा है कि जब वे इलाके से गुजर रहे थे, तब उनकी कार पर टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने पत्थरों से हमला कर दिया. इसके बाद सुरक्षा बलों ने कार्रवाई की है. निशित ्र्प्रमाणिक ने कहा है कि मंत्री उदयन गुहा दिनहाटा की शांति को भंग करना चाहते हैं. उन्होंने कई बार यहां के हिंदी भाषी लोगों को तृणमूल कांग्रेस में वोट नहीं करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी है. निशित प्रमाणिक ने कहा कि यह वही उदयन गुहा है जो कई बार कह चुके हैं कि अगर सीधी उंगली से घी नहीं निकले तो उंगली को टेढा करना पड़ता है. उन्होंने इस घटना की पुरजोर निंदा करते हुए कहा कि यह अत्यंत लज्जाजनक है.

दिनहाटा घटना की चौतरफा निंदा की जा रही है. विभिन्न संगठनों ने भी इस घटना की पुरजोर निंदा की है. आज सिलीगुड़ी नगर निगम के मेयर गौतम देव ने दिनहटा की घटना को केंद्र कर भाजपा पर हमला बोला है. उन्होंने केंद्रीय मंत्री निशित प्रमाणिक को हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि उन्होंने उनके कार्यकर्ताओं के साथ दबंगई की है. ऐसे व्यक्ति का केंद्र में मंत्री होना शर्मनाक है. गौतम देव ने कहा कि केंद्रीय बल ने राज्य पुलिस के एक जवान का सर फोड़ दिया है उन्होंने कहा कि इसे कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ने इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि राज्य में चुनावी हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि दिनहाटा में जो कुछ हुआ है, उसकी रिपोर्ट राज्य के पुलिस प्रमुख से भेजने को कहा है. इसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी. यह कोई पहला मौका नहीं है जब दिनहटा में राजनीतिक संघर्ष की परिणति देखी जा रही हो. प्राय: चुनाव अथवा अन्य मौकों पर भी यहां भाजपा, तृणमूल कांग्रेस और वाम मोर्चा के बीच हिंसा, झड़प और गोली बमबाजी की घटनाएं होती रहती हैं. परंतु राजनीतिक दलों के बीच लड़ाई में दिनहाटा के व्यापारी और कारोबारी मारे जाते हैं कारोबारी के व्यापार पर काफी असर पड़ता है

कहा जाता है कि दिनहाटा में महीने में 10 दिन किसी न किसी कारण से बंद रहता है. केवल 15 दिन ही यहां दुकान, व्यापार और प्रतिष्ठान खुले रहते हैं. व्यापारियों ने बताया कि हम लोग शांतिपूर्ण माहौल चाहते हैं. लेकिन यहां आए दिन कुछ ना कुछ राजनीतिक घटना होती रहती है. जिससे माहौल दूषित हो जाता है. ठीक से व्यापार नहीं चलने के कारण पूर्व में कई व्यापारियों ने यहां से पलायन करना उचित समझा. आज होली से च॔देक दिन पहले इस तरह से दिनहटा बंद होने से वहां के व्यापारियों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है.

(अस्वीकरण : सभी फ़ोटो सिर्फ खबर में दिए जा रहे तथ्यों को सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए दिए गए है । इन फोटोज का इस खबर से कोई संबंध नहीं है। सभी फोटोज इंटरनेट से लिये गए है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status